Bubonic Plague in China: The bubonic plague is back again in China during coronavirus or COVID-19, know sign and symptoms of bubonic plague in Hindi | कोरोना संकट के बीच चीन में ब्यूबानिक प्लेग का खतरा, 7 दिनों में दिखते हैं 3 लक्षण, 24 घंटे में जा सकती है जान
बुबोनिक प्लेग के लक्षण

Highlightsइस बीमारी का एक संदिग्ध मरीज के पाए जाने के बाद प्रशासन ने अलर्ट जारी किया शहर में प्लेग जैसी महामारी फैलने का खतरा हैचूहों के मरने के दो से तीन हफ्ते बाद प्लेग इंसानों में फैलता है

चीन से निकले घातक कोरोना वायरस की चपेट में अब तक 11,562,878 लोग संक्रमित हो गए हैं और 536,841 की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच अब चीन से एक और वायरस फैलने का खतरा सामने आया है। उत्तरी चीन के एक अस्पताल में बुबोनिक प्लेग (Bubonic Plague) का मामले सामने आया है। इस बीमारी का एक संदिग्ध मरीज के पाए जाने के बाद प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। 

सरकार के पीपुल्स डेली ऑनलाइन के अनुसार, मंगोलियाई बेयानूर में प्लेग के प्रसार को रोकने और नियंत्रित करने के लिए एक तीसरे स्तर की चेतावनी जारी की गई है। एक संदिग्ध बुबिक प्लेग रोगी को शनिवार को बेयानुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्थानीय स्वास्थ्य विभाग ने 2020 के अंत तक यह अलर्ट जारी किया है।

बुबोनिक प्लेग से महामारी फैलने का खतरा

स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि इस समय, शहर में प्लेग जैसी महामारी फैलने का खतरा है। लोगों को अपनी सुरक्षा के लिए जागरूकता और क्षमता बढ़ाने की जरूरत है। अगर किसी को स्वास्थ्य में कुछ भी गड़बड़ लगे तो उसे स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों को तुरंत संपर्क करना चाहिए। लोगों को जान बचाने के लिए जागरूकता और क्षमता बढ़ानी चाहिए। जनता को असामान्य स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में डॉक्टर को तत्काल जानकारी देनी चाहिए।

बुबोनिक प्लेग क्या है (What is Bubonic Plague)

बुबोनिक प्लेग को ग्लैंडुलर प्लेग कहा जा सकता है जिसमें शरीर असहनीय दर्द, तेज बुखार, पल्स रेट में वृद्धि से पीड़ित होता है, प्लेग सबसे पहले चूहों में होता है, जब चूहों की मृत्यु हो जाती है तो जीवित प्लेग वायरस उनके शरीर से बाहर आ जाता है और मानव शरीर में प्रवेश करता है। 

बुबोनिक प्लेग कैसे फैल सकता है (How to spread Bubonic Plague)

प्लेग का प्रसार और प्रकोप मुख्य रूप से चूहों और उनके पिस्सू के कारण होता है। ये पिस्सू मनुष्यों को काटते हैं और मानव शरीर को संक्रमित करके उन्हें संक्रमित करते हैं। चूहों के मरने के दो से तीन हफ्ते बाद प्लेग इंसानों में फैलता है। 

बुबोनिक प्लेग के लक्षण (Symptoms of Bubonic Plague)

एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, संक्रमित जानवरों के शिकार और खाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, और लोगों को बिना किसी स्पष्ट कारण के प्लेग जैसे लक्षण या बुखार की रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

7 दिनों में दिखाई देते हैं बुबोनिक प्लेग के लक्षण

यदि कोई बूबोनिक प्लेग से पीड़ित है, तो बैक्टीरिया के संपर्क में आने के एक से सात दिनों के भीतर फ्लू जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। बुबोनिक प्लेग के लक्षणों में सिरदर्द, बुखार और उल्टी शामिल हैं।

इलाज नहीं कराने से 24 घंटे में हो सकती है मौत

बुबोनिक प्लेग एक जीवाणु जनित बीमारी है जो जंगली चूहों जैसे मर्म को प्रभावित करती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, प्लेग से पीड़ित व्यक्ति का समय पर इलाज नहीं कराने से यह बीमारी उसे 24 घंटे से भी कम में मौत के घाट उतार सकती है। 

Read in English

Web Title: Bubonic Plague in China: The bubonic plague is back again in China during coronavirus or COVID-19, know sign and symptoms of bubonic plague in Hindi
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे