Highlightsकॉटन के कपड़े से बना मास्क वायरस से सबसे बेहतर सुरक्षा प्रदान करता हैयह मास्क बूंदों की संख्या को काफी कम कर सकता हैइस तरह के मास्क के पड़े के धागे अपेक्षाकृत मोटे होते हैं

कोरोना वायरस से बचाव के उपायों में मास्क लगना इस खतरनाक वायरस से बचने का सबसे प्रभावी तरीका है। शोधकर्ताओं का कहना है कि फेस मास्क कोरोना वायरस के प्रसार को रोक सकते हैं, लेकिन कौन सा मास्क सबसे प्रभावी है? बाजार में आजकल कई तरह के मास्क मिल रहे हैं। कई डिजाइन मास्क भी बाजार में आ गए हैं। किसी की कीमत कम है तो कुछ बहुत महंगे हैं।

सवाल यह है कि वायरस से बचने के लिए सबसे ज्यादा प्रभावी मास्क कौन सा है? क्या ज्यादा महंगे मास्क कोरोना से ज्यादा बचाव करते हैं? इसे लेकर एक अधययन हुआ है और शोधकर्ताओं ने एक नए अध्ययन में पाया कि क्विल्टिंग कॉटन की कई परतों वाला घर का बना मास्क सबसे बेहतर है।

Best face mask materials: Where to buy fabric and material to make homemade masks

कॉटन के कपड़े का मास्क क्यों है सबसे बेहतर

फॉक्स न्यूज़ के अनुसार, शोधकर्ताओं का कहना है कि कॉटन के कपड़े से बना मास्क वायरस से सबसे बेहतर सुरक्षा प्रदान करता है। इसका कारण यही है कि यह मास्क छींकने, खांसने या जोर-जोर से बोलने पर निकलने वाली बूंदों की संख्या को काफी कम कर सकता है।

इस तरह के मास्क के पड़े के धागे अपेक्षाकृत मोटे होते हैं और यह सब बहुत कसकर एक साथ बुना जाता है। यही कारण है कि यह बूंदों को बहुत दूर फैलने से रोकने में सक्षम है। इस तरह के मास्क खांसने पर निकली बूंदों की यात्रा को 25 से 50% तक कम कर सकते हैं। अध्ययन से पता चला कि बिना मास्क के बूंदों ने औसतन 8 फीट की यात्रा की, जिसकी अधिकतम दूरी लगभग 12 फीट है।

मास्क पहनते समय इन बातों का रखें ध्यान 

नाक और मुंह को करें कवर
मास्क को केवल नाक के ऊपर पहना जाता है ठोड़ी के नीचे नहीं और न सिर्फ मुंह पर। ऐसा करने से नाक खुली रहती है और हवा पास होती रहती है। बेहतर मास्क भी गलत तरीके से पहनने पर सुरक्षा नहीं करता है। 

बार-बार मास्क न उतारें
कई लोग मास्क को बार-बार उतारकर डेस्क, फर्श, टेबल या किसी सतह पर रख देते हैं। आपको बता दें कि वायरस सतह से फैलता है। ऐसा करने से आपका मास्क दूषित हो सकता है। 

बार-बार मास्क को छूने से बचें
बार-बार मोबाइल फोन, आईपैड, कीपैड या अन्य गैजेट को छूने के बाद मास्क को छूने से भी वो दूषित हो सकता है। इसलिए आपको बार-बार मास्क को छूने से बचना चाहिए।

बात करते समय मुंह से नीचे न करें
बातचीत या खाने के दौरान मास्क को ठोड़ी के नीचे खींचना नहीं चाहिए। ऐसा करने से आपको कोई फायदा नहीं होने वाला है।

सिर्फ एक दिन एक मास्क पहनें
एक्सपर्ट मानते हैं कि किसी भी तरह का मास्क केवल एक दिन ही सुरक्षा दे सकता है क्योंकि इसमें मिट्टी के कण जाने से दूषित होने का खतरा होता है। आप जितने दिनों तक एक मास्क को पहनकर रखेंगे, वो उतना ही अधिक संक्रामक होता रहेगा। एक फेस मास्क को कभी भी एक दिन से अधिक समय तक नहीं पहनना चाहिए।

सही तरीके से करें निपटान
इस्तेमाल किये हुए मास्क को आपको कहीं भी नहीं फेंकना चाहिए। संभव है उसमें किसी तरह का वायरस हो जो दूसरों को प्रभावित कर सकता है। इसका निपटान सही तरह करना चाहिए। 

प्लास्टिक मास्क न खरीदें
आपको कपड़े, कागज या प्लास्टिक से बना मास्क या एलर्जी मास्क खरीदने से बचना चाहिए। इस तरह के मास्क इस वायरस से आपकी रक्षा नहीं करते हैं। 

घर का बना मास्क न पहनें
रेनकोट, महिलाओं के अंडरवियर, कार्डबोर्ड बॉक्स, प्लास्टिक की बोतलों और अन्य घरेलू सामानों से तैयार किए होममेड मास्क कोरोना वायरस के खिलाफ कोई सुरक्षा प्रदान नहीं करते हैं, इसलिए इनके इस्तेमाल से बचें।

Web Title: best face mask for covid 19: Searcher says cotton cloth masks offer the best protection against the coronavirus
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे