सरकार ने स्वीकार किया है कि देश में मां बनने योग्य आयुवर्ग (15 से 49 साल) वाली 53 प्रतिशत महिलायें खून की कमी यानी एनीमिया की शिकार हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में राष्ट्रीय पारिवारिक स्वास्थ्य सर्वेक्षण के आंकड़ों के आधार पर यह जानकारी दी है। 

चौबे ने बताया कि सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार रक्ताल्पता की शिकार 15 से 49 साल के आयुवर्ग की महिलाओं में सर्वाधिक महिलायें अनुसूचित जनजाति (59.9 प्रतिशत) की है। इसके अलावा 55.9 प्रतिशत अनुसूचित जाति की महिलायें भी खून की कमी की शिकार हैं। 

उन्होंने बताया कि इस मामले में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं की हिस्सेदारी 20.9 प्रतिशत होने के साथ, इनमें मुस्लिम महिलाओं का प्रतिशत 28.5 है।  

एनीमिया (खून की कमी) क्या है What is Anemia

एनीमिया रक्‍त संबंधित बीमारी है। शरीर में आयरन की कमी के कारण हीमोग्लोबिन का बनना सामान्य से कम हो जाता है, जिससे खून में इसकी कमी हो जाती है। यह कोशिकाओं में ऑक्सीकरण का दौरा कम कर देता और शरीर को पर्याप्‍त ऊर्जा नहीं मिल पाती है।

एनीमिया के संकेत और लक्षण (sign and symptoms of anemia)

एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति को हर समय थकान, उठने-बैठने पर चक्कर, त्वचा और आंखों में पीलापन, सांस लेने में तकलीफ, दिल की असामान्य धड़कन और हथेलियां हमेशा ठंडी रहने जैसी परेशानियां होती हैं। यह समस्या महिलाओं में अधिक पायी जाती है। 

एनीमिया से बचने के लिए डाइट (foods and diet plan for anemia)

विटामिन बी12, फोलिक एसिड, कैल्सियम से भरपूर चीजें इससे लड़ने में मददगार हैं।होलिस्टिक न्यूट्रिशनिश्ट प्रियांशी भटनागर आपको बता रहे हैं कि आपको एनीमिया से बचने के लिए अपनी डाइट में किन-किन चीजों को शामिल करना चाहिए।

1) चुकंदर

चुकंदर में आयरन की भरपूर मात्रा होती है, इसे खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती। इसको रोज अपने खाने में सलाद या सब्जी बनाकर प्रयोग करने से शरीर में खून बनता है। इसमें विटामिन ए और सी होता है।

2) टमाटर

टमाटर में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा इसमें बीटा केरोटिन और विटामिन ई भी पाया जाता है जो आयरन की कमी दूर करता है। टमाटर को सलाद के अलावा इसका सूप भी पी सकते हैं।

3) पालक

पालक में विटामिन ए, बी9, ई, और सी होता है, इसके अलावा इसमें आयरन, फाइबर और बीटा केरोटिन होता है जो खून की कमी दूर करता है। एक कप उबले हुए पालक में 3.2 मिग्रा आयरन होता है। तो एनीमिया से बचाव के लिए पालक का सेवन करें।

4) अंडा

अंडे में प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है, यह एक अच्‍छा एंटीऑक्‍सीडेंट भी है जो शरीर को बीमारियों से बचाकर आयरन की कमी दूर करने में मदद करता है। एक बड़े अंडे में 1 ग्राम आयरन होता है, जो खून की कमी दूर करता है।

5) मछली

समुद्री मछली खाने से भी खून की कमी दूर होती है। मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड के अलावा आयरन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो एनीमिया से लड़ने में मदद करता है। आपको टूना और सालमन मछली खानी चाहिए। 

इन बातों का रखें ध्यान

-आपको अपनी डाइट में मांस, हरे पत्तेदार सब्जियां, किशमिश, चना, सोयाबीन, खजूर, बादाम आदि आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को जरूर शामिल करना चाहिए।

-विटामिन सी से युक्त पदार्थ हीमोग्लोबिन के उत्पादन में सहायक है। इसीलिए विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थ जैसे संतरा, अमरूद, आंवला, नींबू आदि का सेवन खूब करें।

-फोलिक एसिड से युक्त खाद्य पदार्थ जैसे दाल, हरे पत्तेदार सब्जियां, भिंडी और अंडे आदि का सेवन करें। क्योंकि यह एक बी कॉम्प्लेक्स विटामिन है, जो हीमोग्लोबिन के उत्पादन के लिए आवश्यक घटक है।


Web Title: 53% indian women anemia : causes, sign, symptoms, foods and diet plan, home remedies and natural remedies of anemia
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे