दफनाने से पहले डिएगो मैराडोना का निकाल लिया गया था दिल, वजह जान हैरान हो जाएंगे आप

By अनिल शर्मा | Published: November 27, 2021 09:01 AM2021-11-27T09:01:41+5:302021-11-27T09:33:19+5:30

नेल्सन कास्त्रो ने अपनी अप्रकाशित पुस्तक में कथित तौर पर दावा किया है कि माराडोना के दिल को उनके दफनाने से पहले निकाल दिया गया था ताकि फुटबॉल प्रशंसकों को उनकी कब्र खोदकर दिल चुराने से रोका जा सके।

diego maradona's heart was taken out before burial know the reason | दफनाने से पहले डिएगो मैराडोना का निकाल लिया गया था दिल, वजह जान हैरान हो जाएंगे आप

दफनाने से पहले डिएगो मैराडोना का निकाल लिया गया था दिल, वजह जान हैरान हो जाएंगे आप

Next
Highlightsडिएगो माराडोना के दिल का वजन आधा किलो थादिवंगत खिलाड़ी का दिल एक सामान्य पुरुष हृदय के वजन का लगभग दोगुना था

अर्जेंटीनाः करोड़ों प्रशंसकों का दिल चुरानेवाले दुनिया के स्टार फुटबॉल खिलाड़ी डिएगो माराडोना को बिना दिल के ही दफनाया गया था। ऐसा एक किताब में दावा किया गया है जो प्रकाशित होने जा रही है। गौरतलब है कि डिएगो साल 2020 के नवंबर महीने में दुनिया को अलविदा कह दिया था। तब दुनियाभर के फुटबॉल प्रेमी शोक में डूब गए थे। माराडोना की मृत्यु के बाद अर्जेंटीना के एक डॉक्टर और पत्रकार ने मिलकर उनके स्वास्थ्य को लेकर एक किताब लिखी है जिसमें ये दावा किया गया है कि दफनाने से पहले डिएगो का दिल निकाल लिया गया था।

नेल्सन कास्त्रो ने अपनी अप्रकाशित पुस्तक में कथित तौर पर दावा किया है कि माराडोना के दिल को उनके दफनाने से पहले निकाल दिया गया था ताकि फुटबॉल प्रशंसकों को उनकी कब्र खोदकर दिल चुराने से रोका जा सके। हाल ही में कास्त्रो अपनी इस अप्रकाशित पुस्तक 'ला सालुद डी डिएगो: ला वर्दाडेरा हिस्टोरिया' (डिएगो का स्वास्थ्य: द ट्रू स्टोरी)  को प्रोमोट करने अर्जेंटीना टेलीविजन पर पहुंचे थे। इसी दौरान उन्होंने यह चौंकाने वाला दावा किया।

कास्त्रो ने कहा, "जिम्नासिया वाई एस्ग्रीमा ला प्लाटा टीम के प्रशंसक का एक समूह था जिसने कब्र तोड़कर उनके दिल को निकालने की योजना बनाई थी। जब इस बात का पता लगा तो डिएगो को दफनाने से पहले ही उनका दिल निकाल दिया गया। कास्त्रो के मुताबिक, माराडोना के दिल को लूटने से बचाने के अलावा उनकी मौत के कारण का पता लगाने के लिए भी उसे निकालना बहुत जरूरी था। हालांकि डिएगो का दिल चुराने की योजना बनानेवालों के बारे में कास्त्रो ने ज्यादा कुछ नहीं बताया है।

कास्त्रो ने कहा, दुर्भाग्य से माराडोना को हर चीज की लत थी। कास्त्रो ने बताया कि उनके दिल का वजन आधा किलो था, जो एक सामान्य पुरुष हृदय के वजन का लगभग दोगुना था। भले ही उनके पास एक खिलाड़ी का दिल था, जो कि एक बड़ा दिल है, यह किसी और चीज के कारण बड़ा था। सिर्फ इसलिए नहीं कि वह एक एथलीट था, बल्कि दिल की विफलता के कारण भी। माराडोना का दिल चुराने की योजना की अजीबोगरीब कहानी तब सामने आती है जब मृत फुटबॉल खिलाड़ी पर और भी अधिक गंभीर आरोप लगाए गए थे।

37 वर्ष की माविस अल्वारेज़ जो मूल रूप से क्यूबा की रहने वाली है, ने हाल ही में अर्जेंटीना के अधिकारियों को बताया कि जब वह लगभग 40 वर्ष का था, तब माराडोना द्वारा एक किशोरी के रूप में उसका यौन शोषण किया गया था और उसके साथ दुर्व्यवहार किया गया था। अल्वारेज ने 19 नवंबर को स्थानीय मीडिया में आरोप लगाया कि वह 2000 में क्यूबा में हाई स्कूल की 16 वर्षीय छात्रा के रूप में माराडोना से मिलीं। इसके बाद यौन संबंध स्थापित हो गया। छात्रा ने डिएगो पर कई बार बालात्कार करने का आरोप लगाया। 

Web Title: diego maradona's heart was taken out before burial know the reason

फुटबॉल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे