UP: कन्नौज के शिव मंदिर में मांस मिलने पर मचा हंगामा, विरोध में फूंके गए पुतले, 17 गिरफ्तार

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: August 14, 2022 07:52 AM2022-08-14T07:52:09+5:302022-08-14T08:05:01+5:30

इस घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया, ‘‘मंसूर ने बताया कि तालग्राम के थाना प्रभारी हरी श्याम सिंह से चंचल त्रिपाठी की अनबन थी। वह चाहता था कि थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो इसलिए उसने मंदिर में मांस के टुकड़े रखवाकर बवाल कराने की साजिश रची।’’

UP Uproar over meat found in Shiva temple Kannauj district effigies burnt in protest police 17 arrested | UP: कन्नौज के शिव मंदिर में मांस मिलने पर मचा हंगामा, विरोध में फूंके गए पुतले, 17 गिरफ्तार

फोटो सोर्स: ANI (प्रतिकात्मक फोटो)

Next
Highlightsउत्तर प्रदेश के कन्नौज के एक शिव मंदिर में मांस फेंकने का मामला सामने आया है। पुलिस ने कसाई को पैसे की लालच देकर मांस फेंकवाने वाले मुख्य आरोपी को पकड़ लिया है।बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी का थाना प्रभारी से आपसी अनबन था, इस कारण मंदिर में मांस फेंकवाया गया था।

लखनऊ:उत्तर प्रदेश कन्नौज के तालग्राम कस्बे के एक मंदिर में मांस फेंकने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार, थानाध्यक्ष को हटवाने के लिए आरोपी ने मंदिर में मांस रखवाकर सांप्रदायिक उपद्रव की साजिश रची थी। 

आपसी अनबन के कारण मंदिर में फेंकवाया था मांस

पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम सिंह ने शनिवार को बताया कि मुख्य आरोपी चंचल त्रिपाठी ने पेशेवर कसाई को दस हजार रुपये का लालच देकर शिव मंदिर में प्रतिबंधित पशु का मांस रखवाया था। सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपी की तत्कालीन थानाध्यक्ष हरी श्याम सिंह से कुछ अन-बन थी जिस कारण वह थानाध्यक्ष को हटवाना चाहता था। 

क्या है पूरा मामला

उल्लेखनीय है कि तालग्राम थाना क्षेत्र के गांव रसूलाबाद में एक खेत में बने शिव मंदिर में 16 जुलाई की सुबह कुछ अराजक तत्वों द्वारा कथित रूप से मांस का टुकड़ा फेंके जाने के विरोध में दोपहर को घटनास्थल के कुछ दूरी पर स्थित मांस की तीन दुकानों में आग लगा दी गई थी। 

इससे पहले घटना के विरोध में हिंदू संगठनों ने काफी देर तक तालग्राम—इंदरगढ़ मार्ग पर जाम लगाया था। एक ही समुदाय के कई लोगों के लकड़ी के खोखे फूंके गए। वहीं पुलिस इस घटना में पहले ही 17 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी हैं। 

इस तरीके से हुआ खुलासा

पुलिस ने बताया कि छिबरामऊ रोड पर स्थित ईदगाह के पास से रसूलाबाद निवासी मंसूर कसाई को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि पूछताछ में मंसूर ने पूरी घटना और उसके पीछे की मंशा का खुलासा किया है। 

उन्होंने बताया कि मंसूर की निशानदेही पर पुलिस ने तीन छुरी, एक गड़ासा, एक कुल्हाड़ी बरामद की है। मंसूर ने पुलिस को बताया कि रनवा गांव निवासी चंचल त्रिपाठी ने उसे दस हजार रुपए का लालच देकर मांस के टुकड़े मंदिर में रखने को कहा था। 

थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई चाहता था मुख्य आरोपी

पुलिस के अनुसार, ‘‘मंसूर ने बताया कि तालग्राम के थाना प्रभारी हरी श्याम सिंह से चंचल त्रिपाठी की अनबन थी। वह चाहता था कि थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो इसलिए उसने मंदिर में मांस के टुकड़े रखवाकर बवाल कराने की साजिश रची।’’ 

गौरतलब है कि तालग्राम में हुई घटना पर शासन ने कड़ी कार्रवाई करते हुए तत्कालीन जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्रा तथा पुलिस अधीक्षक राजेश श्रीवास्तव, तालग्राम थाना प्रभारी हरी श्याम सिंह का स्थानांतरण कर दिया था। 
 

Web Title: UP Uproar over meat found in Shiva temple Kannauj district effigies burnt in protest police 17 arrested

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे