UP STF arrested Vikas Dubey, its-custody-and-left-for-kanpur | यूपी STF ने विकास दुबे को किया गिरफ्तार, कानपुर लेकर आ रही पुलिस
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर विकास दुबे को यूपी पुलिस को सौंपा गया है।

Highlightsउत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने गैंगस्टर विकास दुबे को हिरासत में ले लिया है। एसटीएफ उसे लेकर कानपुर रवाना हो गई है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने गैंगस्टर विकास दुबे को हिरासत में ले लिया है। एसटीएफ उसे लेकर कानपुर रवाना हो गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मध्य प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे को गिरफ्तार नहीं किया था, ऐसे में ट्रांजिट रिमांड की जरूरत नहीं पड़ी। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर विकास दुबे को यूपी पुलिस को सौंपा गया है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी और कुख्यात अपराधी विकास दुबे को बृहस्पतिवार सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस छह दिनों उसकी तलाश कर रही थी।

श्रद्धालु और कर्मचारी एकदम हुए घटनाक्रम से स्तब्ध

महाकाल मंदिर प्रांगण में दबोचे गए विकास दुबे ने सबसे पहले मंदिर के काउंटर के पास जाकर अपने साथ लाए हुए बैग को जूता स्टैंड के वहाँ रखने को लेकर मंदिर के कर्मचारी से बातचीत की थी। इस दौरान उसे कोई नहीं पहचान पाया था। इसके बाद उसने वीआईपी टिकट के लिए काउंटर और अन्य स्थान पर संपर्क किया था। वहाँ भी उसे कोई नहीं पहचान पाया था। मंदिर में प्रवेश के दौरान भी उसे कोई नहीं पहचान सका। जब उसे सप्तऋषि मंदिर के पास दबोचा गया और उसने कुछ देर चिल्लाया इसके बाद ही सबको समझ आया।

इस घटनाक्रम को कई श्रद्धालुओं ने भी देखा और मंदिर कर्मचारियों ने भी। मंदिर में प्रवेश के दौरान विकास के साथ उज्जैन के ऋषिनगर निवासी श्रद्धालु महिलाएं विकास से आगे-आगे ही दर्शन करने वालों में शामिल थीं। इसके बाद उन्होंने आरती दर्शन किए। इस दौरान भी विकास अपने तीन साथियों के साथ पीछे के बेरिकेड्स में सामान्य दर्शनार्थी की तरह खड़ा रहा। उसके साथ के युवकों ने आरती के वीडियो बनाए। इस वीडियो को मांगने के लिए महिलाओं ने सोचा था।

बाद में जब सोशल मीडिया पर विकास के पकड़े जाने के फोटो और वीडियो सामने आए तो इस संवादददाता को इन महिलाओं ने बताया कि उसने तो हमारे पीछे खड़े होकर ही दर्शन किए थे। बाहर की तरफ हम लोग आगे-पीछे ही निकले थे। इसी तरह एक अन्य श्रद्धालु सागर के अनुसार वे दर्शन करके जब बाहर प्रांगण में आए। इसके बाद सप्तऋषि मंदिर की तरफ गए तो वहाँ उन्होंने देखा कि एक युवक को सुरक्षाकर्मी पकड़ कर खड़े हैं। कुछ पुलिस जवान आए और फिर सुरक्षाकर्मी और पुलिस जवान युवक को लेकर बाहर की ओर रवाना हो गए। महाकाल मंदिर प्रबंध समिति के कर्मचारी के अनुसार जूता स्टैंड पर पहुंचने के दौरान भी विकास ने अपना नाम बताया था और कानपुर भी कहा था।

Web Title: UP STF arrested Vikas Dubey, its-custody-and-left-for-kanpur
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे