Nagpur railway station incident Woman killed boarding moving train both legs amputated  | चलती ट्रेन में चढ़ने से गई महिला की जान, दोनों पैर कटे, नागपुर स्टेशन की घटना
ट्रेन के पहिये की चपेट में आने से उनके दोनों पैर घुटने के पास से कट गए. इससे उनका काफी खून बहने लगा.

Highlightsनागपुर से पांढुर्णा जाने के लिए पुष्पमाला ओटे आज सुबह नागपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंची.ट्रेन क्रमांक 02721 हैदराबाद-निजामुद्दीन स्पेशल ट्रेन नागपुर स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 1 पर आई.डी-1 कोच में चढ़ना था. वे ट्रेन के रुकने के पहले ही इस कोच में चढ़ने की कोशिश करने लगी.

नागपुर: चलती ट्रेन में चढ़ने की कोशिश करते समय एक महिला गिरकर ट्रैक के नीचे आ गई. इससे उसके दोनों पैर कट गए. उन्हें तुरंत ही मेयो अस्पताल में भर्ती कराया गया.

यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. यह हादसा नागपुर रेलवे स्टेशन पर गुरुवार सुबह करीब 9.10 बजे हुआ. मृतक महिला का नाम पुष्पमाला सुधाकर ओटे (52) है. प्राप्त जानकारी के अनुसार नागपुर से पांढुर्णा जाने के लिए पुष्पमाला ओटे आज सुबह नागपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंची. इतने में ट्रेन क्रमांक 02721 हैदराबाद-निजामुद्दीन स्पेशल ट्रेन नागपुर स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 1 पर आई.

इस ट्रेन में उन्हें डी-1 कोच में चढ़ना था. वे ट्रेन के रुकने के पहले ही इस कोच में चढ़ने की कोशिश करने लगी. तभी उनका संतुलन बिगड़ा और वे प्लेटफॉर्म और ट्रेन के बीच की जगह से होकर नीचे गिर गई. इससे ट्रेन के पहिये की चपेट में आने से उनके दोनों पैर घुटने के पास से कट गए. इससे उनका काफी खून बहने लगा.

प्लेटफॉर्म नंबर 1 पर बूट पॉलिश करने वाले हीरालाल कमधरे, राजीन मोहरे ने पुष्पमाला को बाहर निकाला. इस घटना की सूचना उपस्टेशन प्रबंधक वाणिज्य कार्यालय ने रेलवे अस्पताल को दी. अस्पताल की एम्बुलंेस से ओटे को उपचार के लिए मेयो अस्पताल में ले जाया गया. लेकिन उपचार के दौरान यहां उनकी मौत हो जाने की जानकारी रेलवे पुलिस ने दी. 

महिला ने फांसी लगाकर जान दी

महिला ने फांसी लगाकर जान दी भिवापुर समीपस्थ ग्राम मांगली (जगताप) में महिला ने फांसी लगाकर जान दे दी. मृतक ज्योत्सना देवीदास बोबड़े (28) है. घटना बुधवार 24 फरवरी की शाम करीब 4:45 बजे उजागर हुई. प्राप्त जानकारी के अनुसार देवीदास बालकृष्ण बोबड़े (32) का 2019 में ग्राम मुर्जा, जि. चंद्रपुर निवासी विलास तिवाड़े की बेटी ज्योत्सना के साथ विवाह हुआ था. उन्हें छह माह की बेटी है.

ज्योत्सना का यह दूसरा विवाह है. उसका पति देवीदास माता-पिता के साथ खेत गया था. उसका सब्जी-भाजी का व्यवसाय है. शाम को वह खेत से घर पहुंचा. जोत्सना को आवाज लगाने पर कोई प्रतिसाद नहीं मिला. घर के भीतर कमरे में देखने पर उसे बेटी झूले में सोई दिखाई दी. दूसरे कमरे में झांकने पर जोत्सना का शव छत पर नायलॉन की रस्सी से बंधे फंदे पर झूलता नजर आया.

सूचना मिलने पर भिवापुर पुलिस का दल मौके पर पहुंचा. पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम के लिए ग्रामीण अस्पताल भेजा गया. ज्योत्सना की खुदकुशी का कारण पता नहीं चल पाया है. भिवापुर पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया है. एसडीपीओ (उमरेड) भीमराव टेढ़े ने मांगली पहुंचकर घटना का जायजा लिया. एपीआई शरद भस्मे मामले की जांच कर रहे हैं.

Web Title: Nagpur railway station incident Woman killed boarding moving train both legs amputated 

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे