हरियाणा: सिरसा जिले के 6 अलग-अलग जगहों पर लिखे गए है खालिस्तान जिंदाबाद के नारे, ब्राह्मणों को पंजाब-हरियाणा छोड़ने की दी गई है धमकी

By आजाद खान | Published: December 8, 2022 05:06 PM2022-12-08T17:06:14+5:302022-12-08T17:35:22+5:30

वहीं इस मामले में पुलिस ने आरोपी गुरपतवंत सिंह पन्नू और अज्ञात के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया है।

Khalistan Zindabad slogans written at 6 different places in Sirsa district Brahmins threatened to leave Punjab-Haryana | हरियाणा: सिरसा जिले के 6 अलग-अलग जगहों पर लिखे गए है खालिस्तान जिंदाबाद के नारे, ब्राह्मणों को पंजाब-हरियाणा छोड़ने की दी गई है धमकी

फोटो सोर्स: ANI फाइल फोटो

Next
Highlightsहरियाणा के हिसार में खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे गए है। ये नारे 6 अलग-अलग जगहों पर लिखे गए है और इसका एक वीडियो भी सामने आया है। यही नहीं वीडियो में खालिस्तान संबधी आस्ट्रेलिया 29 जनवरी को वोटिंग होने की बात भी कही गई है।

चंड़ीगढ़:हरियाणा के सिरसा जिले में खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे गए है। ये नारे सिरसा जिले के डबवाली के एक दीवार पर लिखी गई है। यही नहीं नारे में ब्राह्मणों को भी चेतावनी दी गई है और उन्हें पंजाब-हरियाणा छोड़ने की धमकी दी गई है। 

इन नारों को छह अलग-अलग जगहों पर लिखा गया है। ऐसे में इस बात की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और दीवार से नारे को मिटा दिया है। गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है जब ऐसी घटना घटी है, इससे पहले भी ऐसी घटना घट चुकी है। 

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि सिरसा जिले के छह अलग-अलग जगहों पर खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे है। इन नारों में ब्राह्मणों को पंजाब-हरियाणा छोड़ने की भी धमकी दी गई है। यही नहीं इन लोगों को 1984 के सिख दंगों का जिम्मेदार भी ठहराया गया है और उन्हें पंजाब और हरियाणा छोड़ने की धमकी दी गई है। 

मामले में बोलते हुए पुलिस ने कहा है कि इन नारों को 6 या 7 दिसंबर की रात को लिखा गया है और इसका एक वीडियो भी बनाया गया है। वीडियो को गुरपतवंत सिंह पन्नू द्वारा जारी किया गया है जिसमें यह दावा किया गया है कि हिरयाणा पंजाब का ही एक हिस्सा है। पन्नू ने वीडियो में 29 जनवरी को वोटिंग भी करवाने की बात कही है। 

इससे पहले भी ऐसी घटनाएं सामने आए है

यह पहली बार नहीं है जब ऐसी घटनाएं हुई है। इससे पहले खालिस्तानी समर्थकों ने रेल की पटरी उखाड़ दी थी। आपको बता दें कि बहुत पहले एक वीडियो सामने आया था जिसमें गुरपतवंत सिंह पन्नू द्वारा यह दावा किया गया था उसने हिसार जिले के बरवाला के खेदड़ पावर प्लांट के पास की रेल पटरी उखाड़ दी गई थी। 

जारी वीडियो में 14 जुलाई 2022 की तारीख दी हुई थी, ऐसे में बाद में रेल की पटरी की मरम्मत की गई थी। वहीं इससे पहले पंजाब के श्री मुक्तसर साहिब रोड पर स्थित बीडीपीओ के ऑफिस पर भी खालिस्तान के समर्थन में नारे लगाए गए थे। 
 

Web Title: Khalistan Zindabad slogans written at 6 different places in Sirsa district Brahmins threatened to leave Punjab-Haryana

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे