झारखंड-बिहार के सात जगहों पर छापेमारी, गिरफ्तार अधिकारी सिंघल मुसीबत में, मिले अहम सुराग, कई और आईएएस आ सकते हैं घेरे में  

By एस पी सिन्हा | Published: May 24, 2022 08:08 PM2022-05-24T20:08:11+5:302022-05-24T20:10:08+5:30

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की गिरफ्तार अधिकारी पूजा सिंघल और अन्य की कथित संलिप्तता वाले धनशोधन मामले की जांच के सिलसिले में मंगलवार को बिहार और झारखंड में करीब सात जगहों पर छापे मारे.

Jharkhand-Bihar Raids seven places arrest officer Pooja Singhal trouble important found many more IAS may come under  | झारखंड-बिहार के सात जगहों पर छापेमारी, गिरफ्तार अधिकारी सिंघल मुसीबत में, मिले अहम सुराग, कई और आईएएस आ सकते हैं घेरे में  

झारखंड के खूंटी जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) निधि के कथित गबन और अन्य वित्तीय अनियमितताओं से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था.

Next
Highlightsकार्रवाई धनशोधन रोकथाम कानून की आपराधिक धाराओं के तहत की जा रही है.प्रवर्तन निदेशालय ने सिंघल (44) को इस महीने की शुरुआत में गिरफ्तार किया था.2000 बैच की आईएएस अधिकारी सिंघल को राज्य सरकार ने बाद में निलंबित कर दिया था.

रांचीः धनशोधन मामले में आईएएस पूजा सिंघल की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. लगातार पूछताछ और रिमांड की प्रक्रिया के बीच एक फिर ईडी ने आज झारखंड-बिहार के सात जगहों पर छापेमारी की है. ईडी ने इस कार्रवाई में रांची से संबंधित बिल्डर अनिल झा और विशाल चौधरी के ठिकाने पर छापेमारी की है.

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक यह कार्रवाई मनी लाउंड्रिंग रोकथाम कानून की आपराधिक धाराओं के तहत की गई है.  ईडी ने राजधानी रांची में विशाल चौधरी नामक एक व्यक्ति के घर पर छापेमारी की है. विशाल चौधरी को झारखंड के ब्यूरोक्रेट्स और राजनेताओं की काली कमाई का बड़ा निवेशक बताया जा रहा है. ईडी अभी उसके घर पर छापेमारी की दस्तावेजों की छानबीन कर रही है.

जांच में ऐसे अधिकारियों के नाम सामने आ सकते हैं. रांची में विशाल चौधरी के विनायका ग्रुप पर ईडी की छापेमारी की गई है. जबकि अनिल झा पर पूजा सिंघल और खान विभाग में ऊपर तक काली कमाई पहुंचाने का आरोप है. अनिल झा अभिजीता कंस्ट्रक्शन में पार्टनर बताया जा रहा है.

यह भी सूचना आ रही कि ईडी अनिल झा के भाई और दुर्गा डेवलपर्स के मालिक दुर्गा झा और एक अन्य संबंधित के यहां भी छापेमारी की गई है. इनके कार्यालयों और घरों में यह छापेमारी की गई. दुर्गा डेवलपर्स का कार्यालय रांची के अरगोरा चौक के पास अशोक नगर, रोड नंबर 5 में है. सूत्रों के अनुसार ईडी को अब अनील झा की तलाश है.

अनील झा के नेताओं और नौकरशाहों से बेहतर ताल्लुकात हैं. माना जा रहा है कि पैसे से लेनदेन में उसकी भूमिका है. अनील झा ही पैसे पहुंचाने का काम करता था. ईडी इसकी तस्दीक करना चाहती है कि पूजा सिंघल प्रकरण में यह नया कैरेक्टर और क्या क्या काम करता था. ईडी द्वारा खनन अधिकारियों से चल रही पूछताछ के बाद मिले इनपुट और अबतक की पूछताछ में इनका नाम सामने आया है.

केवल पूजा सिंघल ही नहीं पाइपलाइन में वर्तमान में राज्य में सक्रिय कई अधिकारी भी हैं. उल्लेखनीय है कि ईडी ने आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल को इस महीने की शुरुआत में गिरफ्तार किया था. झारखंड कैडर की 2000 बैच की आईएएस अधिकारी सिंघल को राज्य सरकार ने बाद में निलंबित कर दिया. फिलहाल वह इस समय संघीय जांच एजेंसी ईडी की हिरासत में हैं.

Web Title: Jharkhand-Bihar Raids seven places arrest officer Pooja Singhal trouble important found many more IAS may come under 

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे