Gangraped in Moving Car Medical Report of Former Inmate of Muzaffarpur Shelter Home Shows No Injury | मुजफ्फरपुर बालिका गृह की पूर्व समवासिन से चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म मामले में नहीं हुई जख्म की पुष्टि
प्रतीकात्मक फोटो

Highlightsआरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम का गठन कर दिया गया है।सभी नामजद आरोपी हैं और पीड़िता के परिचित हैं।

बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के नगर थाना अंतर्गत इंदिरा चौक के पास मुजफ्फरपुर बालिका गृह की एक पूर्व समवासिन के साथ चलती गाड़ी में कथित सामूहिक दुष्कर्म मामले में मेडिकल जांच रिपोर्ट में किसी बाहरी और अंदरूनी जख्म की पुष्टि नहीं हुई है । पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने सोमवार को बताया कि मामले में आयी मेडिकल जांच रिपोर्ट में किसी बाहरी और अंदरूनी जख्म की पुष्टि नहीं हुई है।

उन्होंने कहा कि चूंकि आरोपियों को पीड़िता पहले से जानती थी तो ऐसे में हो सकता है कि झांसा देकर वारदात को अंजाम दिया गया हो। पश्चिमी चंपारण जिला मुख्यालय बेतिया के नगर थाना निवासी उक्त युवती की शिकायत पर उसे महिला थाना के संरक्षण में इलाज के लिए शनिवार देर शाम राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रविवार को मेडिकल जांच डाक्टरों की टीम द्वारा की गयी थी।

पीड़िता ने आरोप लगाया था कि जब शुक्रवार की रात्रि वह अपने मुहल्ले से गुजर रही थी तो तभी चार पहिया वाहन में सवार चार युवकों ने उसे अपनी गाड़ी के भीतर खींचकर जबरन बिठा लिया और चलती गाड़ी में उसके साथ दुष्कर्म किया। यह पूछे जाने पर कि आरोपियों में से एक के वायरल हुए ऑडियो से पुलिस को जांच में मदद मिलेगी, जयंतकांत ने कहा कि सभी नामजद आरोपी हैं और पीड़िता के परिचित हैं।

आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम का गठन कर दिया गया है। पिछले साल मुजफ्फरपुर शहर स्थित एक बालिका गृह में 34 लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला प्रकाश में आने पर गत वर्ष 26 जुलाई को राज्य सरकार ने इस मामले को सीबीआई को जांच के लिए सौंप दिया था।


Web Title: Gangraped in Moving Car Medical Report of Former Inmate of Muzaffarpur Shelter Home Shows No Injury
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे