Father used to rape his 10 year old minor daughter in Kota, police arrested on the information of sarpanch | कोटा में पिता अपनी 10 साल की नाबालिग बेटी का करता था रेप, सरपंच की सूचना पर पुलिस ने किया गिरफ्तार
कोटा में पिता पिछले कई माह से बेटी के साथ कर रहा था रेप (सांकेतिक फाइल फोटो)

Highlightsडाबी पुलिस स्टेशन एसएचओ संपत सिंह ने कहा कि आरोपी मध्य प्रदेश के रायसेन जिले का रहने वाला है।आरोपी हर शाम को काम से लौटने के बाद घर आकर अपनी 10 वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म करता था। 10 वर्षीय पीड़िता पिता द्वारा अपने साथ किए जा रहे कुकृत्य की वजह से पेट व शरीर के निचले हिस्से में दर्द से परेशान थी।

कोटा: राजस्थान पुलिस ने शनिवार को कहा कि मध्य प्रदेश के मूल निवासी 30 वर्षीय एक शख्स को कोटा जिले के डाबी थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक गांव से गिरफ्तार किया है।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को अपनी ही नाबालिग बेटी के साथ तीन-चार महीने तक बार-बार बलात्कार करने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

टाइम्स नाऊ के मुताबिक, आरोपी शख्स को गिरफ्तार करने के बाद स्थानीय अदालत में पेश किया गया। डाबी पुलिस स्टेशन एसएचओ संपत सिंह ने कहा कि आरोपी मध्य प्रदेश के रायसेन जिले का रहने वाला है।

उन्होंने बताया कि वह राजस्थान के कोटा जिला में रहकर दैनिक मजदूरी का काम करता है। आरोपी पिछले 3-4 माह से हर शाम को काम से लौटने के बाद घर आकर अपनी 10 वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म करता था। 

नाबालिग पीड़िता के साथ दो छोटे भाई बहन और रह रहे थे-

पुलिस ने बताया कि शख्स द्वारा बेटी के साथ किए जा रहे गलत व्यहार के बारे में आसपास के लोगों को शक हो गया था। लोगों ने इस बारे में स्थानीय सरपंच से शिकायत की थी। इसके बाद अपने इलाके में नाबालिग लड़की के साथ कुछ अनहोनी होने की शिकायत इलाके के सरपंच ने गुरुवार शाम को पुलिस को दी थी। 

सूचना के आधार पर पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और नाबालिग लड़की को उसके दो छोटे भाई-बहनों (एक 7 साल के लड़के और 5 साल की लड़की) को उसके पिता के पास से छुड़ाकर बाल कल्याण समिति (CWC)में रखा।

साथ ही पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार भी कर लिया। इधर बच्चों से गुरुवार और शुक्रवार को प्रशासन के लोगों ने पूछताछ की।

आरोपी ने मकर संक्रांति (14 जनवरी) के दिन कई बार निर्वस्त्र कर बेटी के साथ रेप किया

सीडब्ल्यूसी और एक महिला कांस्टेबल द्वारा काउंसलिंग करने पर नाबालिग लड़की ने खुलासा किया कि उसके पिता ने उसके साथ कई बार बलात्कार किया था और मकर संक्रांति (14 जनवरी) के दिन उसे कई बार निर्वस्त्र कर उसके साथ बलात्कार किया था।

बार-बार हो रहे इस यौन उत्पीड़न के बाद उसकी हालत दर्द से खराब हो गई थी। पीड़िता ने बताया कि उस दिन के बाद से उसके पेट और शरीर के निचले हिस्से में काफी दर्द हो रहा था। 

मिल रही जानकारी के मुताबिक, आरोपी व्यक्ति का अपनी पत्नी के साथ अच्छा संबंध नहीं था और अक्सर वह पत्नी के साथ झगड़ा करता था। लगातार हो रहे झगड़ा से परेशान होकर शख्स ने अपनी पत्नी को उसके माता-पिता के पास छोड़ दिया था और तीनों नाबालिग बच्चों को लगभग चार महीने पहले बूंदी जिले के डाबी इलाके में रहने लगा था।

आरोपी हर रोज नशे में घर लौटकर नाबालिग बेटी को परेशान करता था-

आरोपी ने कोटा के डाबी थाने के पास एक गांव में आवास किराए पर लिया और यहां रहकर आसपास दिहाड़ी मजदूर के रूप में काम करने लगा। तीनों बच्चे ज्यादातर समय घर पर अकेले रहते थे।

आरोपी हर रोज नशे में घर लौटता था और सबसे बड़ी नाबालिग बेटी के साथ जबरन रेप करता था। पिछले चार माह से लड़की काफी परेशान थी और दर्द से परेशान थी।

गुरुवार शाम को पीड़िता ने कुछ पड़ोसी महिलाओं के साथ अपने साथ हो रहे इस कुकृत्य के संबंध में खुलासा किया। इसके बाद मामला सरपंच और फिर पुलिस तक पहुंचा।

Web Title: Father used to rape his 10 year old minor daughter in Kota, police arrested on the information of sarpanch

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे