Delhi Auto driver assault: Akali MLA Manjinder Singh Sirsa Manhandled By Mob Protesting | ड्राइवर पिटाई मामला: मुखर्जी नगर थाने के पास बवाल, प्रदर्शनकारियों ने की विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा से हाथापाई
ड्राइवर पिटाई मामला: मुखर्जी नगर थाने के पास बवाल, प्रदर्शनकारियों ने की विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा से हाथापाई

Highlightsगृह मंत्रालय की ओर से दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक से पूरे घटना पर रिपोर्ट मांगी गई है। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंदर है। दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप), कांग्रेस और केंद्र में बीजेपी की सहयोगी अकाली दल ने दिल्ली पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं।

दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके में पुलिस और ऑटो ड्राइवर के बीच झड़प का मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली के लोगों में इस घटना को लेकर गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। सोमवार (18 जून) को देर रात बड़ी संख्या में सिख समुदाय के लोगों ने मुखर्जी नगर थाने के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान वहां शिरोमणी अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा भी पहुंचे थे। विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा का वहां मौजूद प्रदर्शनकारियों के साथ मारपीट भी हो गई।

 न्यूज एजेंसी एएनआई ने जो इस घटना का वीडियो जारी किया है, उसमें दिख रहा है कि गुस्साये लोग विधायक के साथ हाथा-पाई और धक्का देते नजर आ रहे हैं। वीडियो में लोगों को अपशब्द का इस्तेमाल करते भी देखा गया है। 

मुखर्जी नगर थाने के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग है कि ऑटो ड्राइवर पिटाई मामले में जितने भी लोग वीडियो में दिख रहे हैं सबको बर्खास्त किया जाए। विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा थाने के अंदर गए और जब बाहर निकले तो बताया कि पुलिस ने बढ़िया कार्रवाई की है। सही धाराओं में केस भी दर्ज कर लिया है। जिसके बाद ये पूरा विवाद हुआ और वहां कुछ लोगों ने उनपर हमला किया। विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा की बात सुनकर लोग गुस्सा हो गए और कहा कि वह भी पुलिस से मिले हुये हैं। 

दिल्ली पुलिस पर लोगों का गुस्सा उस वक्त भी देखने को मिला जब घटना से नाराज लोगों ने शालीमार बाग इलाके में प्रदर्शन किया और एसीपी के.जी.त्यागी पर भीड़ ने हमला कर दिया।  एसीपी के.जी.त्यागी को लोगों ने पीटा भी है। 

दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके में पुलिस और ऑटो ड्राइवर के बीच झड़प के मामले को क्राइम ब्रांच को सौंपा गया है। दिल्ली पुलिस के डीसीपी मधुर वर्मा ने इस बात की जानकारी दी है। मधुर वर्मा के मुताबिक ऑटो वाले की पुलिस के द्वारा पिटाई के मामले में पुलिस ने क्रॉस एफआईआर  भी दर्ज की है। मामले में गृह मंत्री अमित शाह ने रिपोर्ट भी मांगी है। गृह मंत्रालय की ओर से दिल्ली के पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक से पूरे घटना पर रिपोर्ट मांगी गई है। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंदर है। मामले में तीन पुलिसकर्मी को भी सस्पेंड कर दिया गया है। 

जानें क्या है दिल्ली में ऑटो वाले की पिटाई का पूरा मामला 

रविवार (16 जून) की शाम मुखर्जी नगर में टेम्पो ड्राइवर ने पुलिस वेन में टक्कर मार दी। इसके बाद दोनों में बहस शुरू हुई। ऑटो ड्राइवर ने ‘कृपाण’ (तलावर) निकाल ली और दिल्ली पुलिस के अफसर पर हमला कर दिया। पुलिस ने कहा कि ड्राइवर खतरनाक ढंग से ऑटो चला रहा था। उसके ऑटो से पुलिसकर्मी की पैर में चोट लगी थी। इसके बाद दर्जनभर पुलिस वाले ड्राइवर पर लात-घूंसे और लाठियां बरसाने लगे। आस-पास के लोगों ने इसका वीडियो बना लिया और उसको सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। जिसका वीडियो वायरल हो गया है। 
 


Web Title: Delhi Auto driver assault: Akali MLA Manjinder Singh Sirsa Manhandled By Mob Protesting
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे