Bihar Instead of cremating the body due to financial constraints, the body was buried in the house, the police removed and sent it for postmortem | बिहार: आर्थिक तंगी की वजह से शव का दाह संस्कार करने के बजाये घर में ही दफनाया, पुलिस ने निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा 
बिहार: आर्थिक तंगी की वजह से शव का दाह संस्कार करने के बजाये घर में ही दफनाया, पुलिस ने निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा 

पटना:बिहार के भागलपुर जिले के इशाकचक थाना क्षेत्र के विषहरी स्थान व्यायामशाला गली स्थित झोपडपट्टी में रहने वाले ओम प्रकाश मंडल की आर्थिक स्थिति ऐसी खराब हुई कि उसने अपने भाई का शव घर में ही दफना दिया. 30 साल के युवक का तबीयत खराब चल रहा था. जब मौत हुई तो अंतिम संस्कार के लिए परिवार के पास पैसा तक नहीं था. ऐसे में भाई की मौत पर दाह संस्कार के लिए पैसे जुटाना भी मुश्किल हो गया. घर में पैसे नहीं रहने से भाई और भतीजे ने गुड्डू मंडल (30) के शव को घर में ही दफना दिया. 

बताया जाता है कि इसकी खबर पड़ोस के लोगों को भी दे दी. इसके बाद लोगों को जैसे ही इस बात की जानकारी मिली तो पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने के बाद पुलिस पहुंची. पुलिस ने जमीन खोदकर शव को बाहर निकाला. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. 

मृतक के बड़े भाई ओम प्रकाश मंडल ने बताया कि उसका भाई गुड्डू को मिर्गी की बीमारी थी. शुक्रवार को रात उसकी तबीयत खराब हुई. देर रात के बाद सभी लोग सोने चले गए. जब सुबह देखा तो उसकी मौत हो चुकी थी. अंतिम संस्कार के लिए पैसा नहीं था. जिसके बाद घर के आंगन में ही गड्डा खोदकर भाई का शव दफना दिया. लॉकडाउन में आर्थिक स्थिति खराब हो गई है. फिलहाल पुलिस हर एंगल से मामले की छानबीन में जुटी है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मानसिक रूप से कमजोर और बीमार गुड्डू मंडल सडक किनारे से कचरा बीनने का काम करता था. शुक्रवार की रात में उसे मिर्गी का दौरा आया. पैर-हाथ दबाने और पानी डालने के बाद होश आ गया. रात में वह सो गया था. लेकिन सुबह परिवार वाले जब उठे तो उसकी मौत हो गई थी. 

आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार के पास एक रुपया नहीं था. पडोसियों की मानें तो परिवार के सभी सदस्य मंद बुद्धि हैं. गुड्डू मंडल की 10 साल पहले शादी हुई थी, लेकिन बीमारी के कारण पत्नी भाग गई. घर में कोई महिला नहीं है. 

शनिवार को भाई ओमप्रकाश मंडल, भतीजा नीरज व राजा ने घर में ही एक फीट लंबा गड्ढा खोदकर शव को दफना दिया. वहीं, सूचना मिलने पर सिटी डीएसपी राजवंशी सिंह व इंस्पेक्टर भी पहुंचे. शव को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. डीएसपी ने बताया कि परिवार के लोगों से बात की गई. भाई-भतीजा सीधे हैं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कारणों का पता चल सकेगा.

Web Title: Bihar Instead of cremating the body due to financial constraints, the body was buried in the house, the police removed and sent it for postmortem
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे