बदायूंः शराबी पौत्र ने दादा-दादी को मारकर अलग-अलग बंद मकान में फेंककर ताला लगाया, दंपति के सड़े-गले शव बरामद, ऐसे हुआ खुलासा

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: June 26, 2022 04:30 PM2022-06-26T16:30:59+5:302022-06-26T16:32:09+5:30

अधिकारी के मुताबिक, दामरी गांव में बुजुर्ग दंपति के शव सड़ी-गली अवस्था में अलग-अलग बंद मकानों में मिले हैं और उनकी शिनाख्त प्रेमशंकर (65) व उनकी पत्नी भगवानदेई (60) के रूप में हुई है।

Badaun Drunken grandson kills grandparents and locks throw locked houses rotten bodies couple recovered | बदायूंः शराबी पौत्र ने दादा-दादी को मारकर अलग-अलग बंद मकान में फेंककर ताला लगाया, दंपति के सड़े-गले शव बरामद, ऐसे हुआ खुलासा

दोनों मकानों में बाहर से ताला लगा हुआ था और पुलिस ने अंदर जाकर देखा तो दंपति के सड़े-गले शव बरामद हुए।

Next
Highlightsबड़े भाई रामपाल के बेटे हिमेश पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में टीम लगा दी है।प्रेमशंकर के तीन पुत्रों में से दो रामपाल व इंद्रपाल दिल्ली में रहकर मजदूरी करते हैं, जबकि मंझला बेटा गेंदनलाल गांव में ही नौकरी करता है।

बदायूंः  उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले के फैजगंज बेहटा थाना क्षेत्र के एक गांव में शराबी पौत्र ने कथित तौर पर अपने दादा-दादी की हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने बुजुर्ग दंपति के शवों को सड़ी-गली हालत में बरामद किया है। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी के मुताबिक, दामरी गांव में बुजुर्ग दंपति के शव सड़ी-गली अवस्था में अलग-अलग बंद मकानों में मिले हैं और उनकी शिनाख्त प्रेमशंकर (65) व उनकी पत्नी भगवानदेई (60) के रूप में हुई है। पुलिस अधीक्षक (एसपी) ग्रामीण सिद्धार्थ वर्मा के अनुसार, मृतक दंपति के मंझले पुत्र गेंदनलाल ने पुलिस को दी तहरीर में दिल्ली में मजदूरी करने वाले अपने बड़े भाई रामपाल के बेटे हिमेश पर हत्या का आरोप लगाया है। उन्‍होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में टीम लगा दी है।

वर्मा के मुताबिक, प्रेमशंकर के तीन पुत्रों में से दो रामपाल व इंद्रपाल दिल्ली में रहकर मजदूरी करते हैं, जबकि मंझला बेटा गेंदनलाल गांव में ही नौकरी करता है। उन्होंने बताया कि 22 जून को गांव में एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए बुजुर्ग दंपति दिल्ली से गांव आए थे, लेकिन दावत के बाद प्रेमशंकर और भगवानदेई गांव में किसी को भी नहीं दिखाई दिए।

वर्मा के अनुसार, गांव वालों ने समझा कि शादी में शिरकत करने के बाद दोनों दिल्ली लौट गए होंगे, लेकिन शनिवार शाम प्रेमशंकर के पैतृक घर और रामपाल व इंद्रपाल के मकान से बदबू आने पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। उन्होंने बताया कि दोनों मकानों में बाहर से ताला लगा हुआ था और पुलिस ने अंदर जाकर देखा तो दंपति के सड़े-गले शव बरामद हुए।

एसपी सिद्धार्थ वर्मा और पुलिस क्षेत्राधिकारी ओजस्वी चावला ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी। बुजुर्ग दंपति के मंझले पुत्र गैदनलाल ने पुलिस को बताया कि उसके बड़े भाई रामपाल का पुत्र हिमेश (20) शराबी प्रवृत्ति का है और वह आए दिन बुजुर्ग दादा-दादी से शराब पीने के लिए पैसे मांगता था और न देने पर झगड़ा करता था।

गैदनलाल ने आरोप लगाया कि 22 जून की रात को दावत के बाद उसने ही अपने दादा-दादी की हत्या कर दोनों के शव अलग-अलग मकानों में रखकर बाहर से ताला लगा दिया, ताकि किसी को शक न हो। मृतक दंपति के पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी हिमेश के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। 

Web Title: Badaun Drunken grandson kills grandparents and locks throw locked houses rotten bodies couple recovered

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे