Araria murder punishment: परिवार से बगावत कर प्रेमी को दिलाई न्याय, शादी के नाम पर घर बुलाकर बिजली के करंट देकर मारा, पिता, भाई, भाभी और जीजा को आजीवन कारावास की सजा

By एस पी सिन्हा | Published: July 10, 2024 04:38 PM2024-07-10T16:38:21+5:302024-07-10T16:40:32+5:30

Araria murder punishment: धीरेंद्र यादव के घर में छोटू को बंद कर पहले लाठी- डंडा और रॉड से पीटा गया और फिर करंट लगाकर हत्या कर दी गई थी।

Araria murder punishment girlfriend name marriage family called lover home electric shock Father, brother, bhabhi jija sentenced to life imprisonment | Araria murder punishment: परिवार से बगावत कर प्रेमी को दिलाई न्याय, शादी के नाम पर घर बुलाकर बिजली के करंट देकर मारा, पिता, भाई, भाभी और जीजा को आजीवन कारावास की सजा

सांकेतिक फोटो

HighlightsAraria murder punishment: छोटू के नाखून तक उखाड़ लिए गए थे। Araria murder punishment: बिजली के करंट का झटका दिया गया।Araria murder punishment: प्रेमिका प्रेमी को न्याय दिलाने के लिए परिवार के खिलाफ हो गई।

Araria murder punishment: बिहार में अररिया से एक बड़ा ही दिलचस्प मामला सामने आया है, जहां एक प्रेमिका ने अपने घर वालों पर प्रेमी की हत्या करने का खुलासा कर आठ लोगों को आजीवन कारावास की सजा दिलवा दी है। दरअसल, रानीगंज थाना क्षेत्र के दो गांव बरहुआ और रहरिया में प्रेमिका के परिवार वालों ने जुलाई 2022 में शादी के नाम पर छोटू को घर बुलाकर निर्मम तरीके मार दिया था। छोटू को पहले तो जमकर पीटा गया, फिर बिजली के करंट का झटका दिया गया। छोटू के नाखून तक उखाड़ लिए गए थे। 

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश चतुर्थ रवि कुमार की अदालत ने छोटू कुमार की हत्या के मामले में आठ दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। सजा पाने वाले दोषियों में प्रेमिका के पिता धीरेंद्र यादव, भाई रविकांत यादव और शशिकांत यादव, बहनोई पवन यादव और मिथिलेश यादव, भाभी रूबी देवी के अलावा चंदन यादव और निर्भय यादव शामिल हैं।

कोर्ट ने सबको उम्रकैद के साथ 10-10 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माने की राशि नहीं जमा करने पर 6 महीने की अतिरिक्त सजा का आदेश दिया गया है। कोर्ट ने यह फैसला रानीगंज थाना में दर्ज केस में दिया है। छोटू के पिता उमेश यादव ने केस दर्ज कराया था। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार प्रेम प्रसंग में 6 जुलाई 2022 को छोटू कुमार की हत्या हुई थी।

धीरेंद्र यादव के घर में छोटू को बंद कर पहले लाठी- डंडा और रॉड से पीटा गया और फिर करंट लगाकर हत्या कर दी गई थी। छोटू की प्रेमिका प्रेमी को न्याय दिलाने के लिए परिवार के खिलाफ हो गई। इस मामले में एपीपी प्रभा कुमारी ने फांसी की सजा की मांग की थी, जबकि बचाव पक्ष ने कोर्ट से कम से कम सजा देने की गुहार लगाई थी।

इस मामले में प्रेमिका ने अपने पिता, भाई, भाभी और जीजा पर हत्या का सीधा आरोप लगाया था। आरती छोटू के दाह संस्कार में भी शामिल हुई थी। छोटू की मौत के बाद वो अपने घर और परिवार को छोड़कर छोटू के घर पर ही रहने लगी। उसकी शादी छोटू के बड़े भाई मोनू से हुई है, जो छोटू के परिवार ने कराई। वह अब अपनी ससुराल भरगामा प्रखंड के रहड़िया गांव में ही रह रही है।

Web Title: Araria murder punishment girlfriend name marriage family called lover home electric shock Father, brother, bhabhi jija sentenced to life imprisonment

क्राइम अलर्ट से जुड़ीहिंदी खबरोंऔर देश दुनिया खबरोंके लिए यहाँ क्लिक करे.यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Pageलाइक करे