Sourav Ganguly's Childhood coach Ashok Mustafi dies following cardiac arrest | सौरव गांगुली के बचपन के कोच का लंबी बीमारी के बाद निधन, 86 साल के उम्र में ली आखिरी सांस
सौरव गांगुली के बचपन के कोच अशोक मुस्तफी का गुरुवार को निधन हो गया। (फाइल फोटो)

Highlightsसौरव गांगुली के बचपन के कोच अशोक मुस्तफी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया।सौरव गांगुली अपने मित्र संजय दास के साथ अशोक मुस्तफी के पास कोचिंग लेते थे।

कोलकाता। पूर्व भारतीय कप्तान और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली को कोचिंग दे चुके अनुभवी कोच अशोक मुस्तफी का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार सुबह निधन हो गया। वह 86 बरस के थे। उनके परिवार में एक बेटी है जो लंदन में रहती है। अशोक के पारिवारिक सूत्रों ने पीटीआई को बताया, ‘‘वह हृदय से जुड़ी बीमारियों से पीड़ित थे और अप्रैल में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आज सुबह उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उन्होंने अंतिम सांस ली।’’

अशोक प्रख्यात दुखीराम क्रिकेट कोचिंग सेंटर के कोच थे जो बाद आर्यन क्लब गैलरीज के दायरे में आया जिसे एक समय बंगाल क्रिकेट की नर्सरी समझा जाता था और इसने गांगुली सहित एक दर्जन से अधिक रणजी क्रिकेटर दिए।

बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) अध्यक्ष अविषेक डालमिया ने शोक संदेश में कहा, ‘‘मैं मुस्तफी सर के निधन से दुखी और हैरान हूं। क्रिकेट में उनके योगदान, विशेषकर खिलाड़ियों के करियर बनाने को हमेशा याद रखा जाएगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उनके परिवार के प्रति गहरी संवदेनायें। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।’’ गांगुली के पिता ने उन्हें शुरुआती दिनों में अशोक के पास ट्रेनिंग के लिए भेजा था जहां वह अपने मित्र संजय दास के साथ कोचिंग लेते थे। पिछले महीने अशोक की हालत बिगड़ गई थी और गांगुली ने अपने करीबी मित्र संजय के साथ मिलकर उनके उपचार का इंतजाम किया।

Web Title: Sourav Ganguly's Childhood coach Ashok Mustafi dies following cardiac arrest
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे