sachin tendulkar best inning of world cup history when he made 120 runs against england in 2011 | Sports Flashback: 10 चौके और 5 छक्कों के साथ वर्ल्ड कप में जब सचिन ने खेली थी सबसे दमदार पारी
Sachin Tendulkar

Highlightsइंटरनेशनल क्रिकेट में सचिन के नाम है 100 शतकों का रिकॉर्ड2011 के वर्ल्ड कप में जमाए थे सचिन तेंदुलकर ने दो शतक

नई दिल्ली, 18 जुलाई: भारतीय फैंस 2011 का वर्ल्ड कप भूले नहीं होंगे। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने इस वर्ल्ड कप में जो धमाल मचाया उसने हर भारतीय फैंस को झूमने पर मजबूर कर दिया। 1983 के बाद यह पहला मौका था जब भारत ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया था। भारत ने फाइनल में श्रीलंका को मात दी थी और धोनी का विजयी छक्का आज भी हर फैन के जेहन में है। 

हालांकि, इसी टूर्नामेंट में एक और ऐसा मैच भी हुआ जिसने हर किसी की सांसें रोक दी थी। इस मैच की खास बात सचिन तेंदुलकर के बैट से निकली शतकीय पारी थी जिसकी बदौलत टीम इंडिया इंग्लैंड को कड़ी चुनौती दे सका।

यह भी पढ़ें- Sports Flashback: कहानी सहवाग की उस पारी की, जिसने उन्हें 'मुल्तान का सुलतान' बना दिया

भारत और इंग्लैंड के बीच सबसे रोमांचक मैच

यह मैच 27 फरवरी, 2011 को बेंगलुरु में खेला गया था। यह वर्ल्ड कप-2011 का 11वां मैच था। टॉस भारत ने जीता और पहले बैटिंग करते हुए 49.5 ओवर में पूरी टीम 338 रनों पर ऑल आउट हो गई। सचिन ने इस मैच में 120 रन बनाए और ये उनका वनडे में 47वां शतक था। सचिन ने 115 गेंदों की अपनी पारी में 10 चौके और 5 छक्के लगाए।  बहरहाल, भारत ने 300 से ज्यादा रन बनाए थे और इसलिए भारतीय फैंस को उम्मीद थी कि धोनी की सेना आसानी से मैच अपने नाम कर लेगी। हालांकि, ऐसा हुआ नहीं और इंग्लैंड ने कड़ी टक्कर दी।

इंग्लैंड की ओर से कप्तान एंड्रियू स्ट्रॉस ने 145 गेंदों पर 158 रनों की पारी खेली। उन्होंने 18 चौके और एक छक्का लगाया केविन पीटरसन (31) के साथ पारी की शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 68 रन जोड़े। इसके अलावा इयान बेल ने 69 रन बनाए और आखिरकार इंग्लिश टीम 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर भारत के स्कोर के बराबर 338 रन बना सकी। इस तरह इंग्लैंड और भारत के बीच ये मैच टाइ रहा।

यह भी पढ़ें- इस पाकिस्तानी ने 11 साल पहले बनाया था ऐसा रिकॉर्ड, अब तक नहीं तोड़ पाया कोई खिलाड़ी

सचिन की पारी क्यो रही खास

सचिन ने 2011 के इस वर्ल्ड कप में दो शतक जमाए थे और पहला शतक इंग्लैंड के खिलाफ ही आया था। सचिन की ये पारी खास इसलिए भी रही कि क्योंकि इससे करीब एक साल पहले उन्होंने ग्वालियर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 200 रनों की पारी खेली थी और वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने थे। 

इस पारी के बाद सचिन ने अगला वनडे करीब 10 महीने बाद खेला था और वर्ल्ड कप में उनका फॉर्म कैसा होगा, इसे लेकर काफी बातें हो रही थीं। बहरहाल, सचिन ने अपने आलोचकों को गलत साबित किया और इंग्लैंड के खिलाफ मैच के बाद एक शतक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी ठोका था। नागपुर में हुए इस मैच में सचिन ने 111 रन बनाए।  सचिन के बल्ले से 2011 के वर्ल्ड कप में 9 मैचों में 482 रन निकले और वह टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर रहे। वह केवल 19 रनों से श्रीलंका के कुमार संगकारा से पीछे रह गए। इससे पहले सचिन 1996 और 2003 के वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे थे।

यह भी पढ़ें- Sports Flashback: आयरलैंड ने जब वेस्टइंडीज को किया था 25 रनों पर ऑलआउट


Web Title: sachin tendulkar best inning of world cup history when he made 120 runs against england in 2011
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे