Vijay Hazare Trophy Final: हिमाचल प्रदेश का कमाल, तमिलनाडु को मात देकर पहली बार विजय हजारे ट्रॉफी पर किया कब्जा

Vijay Hazare Trophy Final: हिमाचल के लिए कप्तान ऋषि धवन ने कमाल का प्रदर्शन किया। 23 गेंद में 42 रन की पारी खेली। शुभम अरोड़ा ने 131 बॉल में 136 रन पर नाबाद रहे।

By सतीश कुमार सिंह | Published: December 26, 2021 05:10 PM2021-12-26T17:10:49+5:302021-12-26T19:45:11+5:30

Vijay Hazare Trophy Final Himachal Pradesh created history first-ever domestic title won by 11 runs  | Vijay Hazare Trophy Final: हिमाचल प्रदेश का कमाल, तमिलनाडु को मात देकर पहली बार विजय हजारे ट्रॉफी पर किया कब्जा

हिमाचल ने मैच के साथ ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया। (स्रोत- बीसीसीआई टीवी)

Next
Highlightsऋषि धवन की अगुवाई वाली टीम ने सेमीफाइनल में सेना को 77 रन से करारी शिकस्त दी थी।तमिलनाडु ने आखिरी गेंद तक चले रोमांचक मुकाबले में सौराष्ट्र को दो विकेट से हराया था। हिमाचल की ओर से अमित कुमार ने 74 रन की पारी खेली।

Vijay Hazare Trophy Final: हिमाचल प्रदेश ने फाइनल में तमिलनाडु को 11 रन से मात देकर पहली बार विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट पर कब्जा कर लिया। हिमाचल की टीम अपने पहले खिताब की कवायद में मैदान पर उतरी थी। शुभम अरोड़ा ने शतकीय पारी खेली।

तमिलनाडु की ओर से विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने 103 गेंद में 116 रन की पारी खेली। तमिलनाडु ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 विकेट खोकर 314 रन बनाए थे। जवाब में हिमाचल ने मैच के साथ ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया। हिमाचल की ओर से अमित कुमार ने 74 रन की पारी खेली।

कप्तान ऋषि धवन के हरफनमौला खेल और मैन ऑफ द मैच सलामी बल्लेबाज शुभम अरोड़ा की नाबाद शतकीय पारी से हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय एकदिवसीय टूर्नामेंट के खराब रोशनी से प्रभावित फाइनल में रविवार को यहां तमिलनाडु को वीजेडी प्रणाली से 11 रन से हराकर पहली बार इस खिताब को अपने नाम किया।

तमिलनाडु ने अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की 116 रन की पारी के दम पर 314 रन (49.4 ओवर में ऑल आउट) बनाये। खराब रोशनी के कारण मैच को रोके जाते समय हिमाचल ने 47.3 ओवर में चार विकेट के 299 रन बना लिये थे। हिमाचल के लिए कप्तान ऋषि धवन ने कमाल का प्रदर्शन किया।

23 गेंद में 42 रन की पारी खेली। शुभम अरोड़ा ने 131 बॉल में 136 रन पर नाबाद रहे। ऋषि धवन की अगुवाई वाली टीम ने सेमीफाइनल में सेना को 77 रन से करारी शिकस्त दी थी। दूसरी तरफ तमिलनाडु ने आखिरी गेंद तक चले रोमांचक मुकाबले में सौराष्ट्र को दो विकेट से हराया था। इस सत्र में शुरू में सैयद मुश्ताक अली ट्राफी टी20 टूर्नामेंट जीतने वाली तमिलनाडु की टीम विजय हजारे ट्राफी जीतकर दूसरा खिताब हासिल करने का सपना टूट गया।

वीजेडी प्रणाली से इस समय तमिलनाडु का स्कोर 289 रन था। विकेटकीपर बल्लेबाज अरोड़ा ने 131 गेंद की नाबाद पारी के दौरान 13 चौके और एक छक्का जड़ा। जबकि शानदार लय में चल रहे धवन ने 23 गेंद की नाबाद पारी में 42 रन बनाये उन्होंने इस दौरान पांच चौके और एक छक्का लगाया। धवन ने गेंद से भी कमाल दिखाते हुए 10 ओवर में 62 रन देकर तीन विकेट लिये। हिमाचल प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसे उसके गेंदबाजों ने शुरुआती 14.3 ओवर में 40 रन पर चार विकेट लेकर सही साबित किया।

इसके बाद कार्तिक और बाबा इंद्रजीत ने 202 रन की शानदार साझेदारी कर तमिलनाडु की मैच में शानदार वापसी करायी। कार्तिक ने 103 गेंद की पारी में आठ चौके और सात छक्के जड़े तो वही इंद्रजीत ने 71 गेंद की पारी में आठ चौके और एक छक्का की मदद से 80 रन बनाये। आखिरी ओवरों में शाहरुख खान ने एक बार फिर विस्फोटक पारी खेली।

उन्होंने 21 गेंद में तीन छक्के और इतने ही चौको की मदद से 42 रन बनाये तो वही कप्तान विजय शंकर ने 16 गेंद में 22 रन बनाये। हिमाचल प्रदेश के लिए पंकज जायसवाल ने 9.4 ओवर में 59 रन देकर चार विकेट लिये। लक्ष्य का पीछा करते हुए अरोड़ा और प्रशांत चोपड़ा (21) ने पहले विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी कर हिमाचल प्रदेश को अच्छी शुरुआत दिलायी।

टीम ने हालांकि इसके बाद दिग्विजय रांगी (शून्य) और निखिल गंगटा (18) के विकेट जल्दी-जल्दी गवां दिये। अरोड़ा का साथ इसके बाद अमित कुमार ने शानदार तरीके से निभाया। दोनों की चौथे विकेट के लिए 148 रन की साझेदारी में अमित ने 74 रन का योगदान दिया। उन्होंने 79 गेंद की पारी में छह चौके लगाये। इस साझेदारी को बाबा अपराजित (45 रन पर एक विकेट) ने तोड़कर तमिलनाडु की उम्मीदे जगा दी लेकिन धवन ने एक बार फिर ताबड़तोड़ पारी खेल टीम को जीत सुनिश्चित की।

Open in app