Ranji Trophy 2022: बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी को लेकर बनाई योजना, अब दो चरणों में खेला जाएगा टूर्नामेंट

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी को लेकर नई योजना बनाई है। ऐसे में अब इस योजना के तहत टूर्नामेंट दो चरणों में खेला जाएगा।

By मनाली रस्तोगी | Published: January 28, 2022 01:00 PM2022-01-28T13:00:02+5:302022-01-28T13:01:22+5:30

The Board has decided to conduct the Ranji Trophy this season in two phases says BCCI Secretary Jay Shah | Ranji Trophy 2022: बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी को लेकर बनाई योजना, अब दो चरणों में खेला जाएगा टूर्नामेंट

Ranji Trophy 2022: बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी को लेकर बनाई योजना, अब दो चरणों में खेला जाएगा टूर्नामेंट

Next
Highlightsरणजी ट्रॉफी को लेकर नई योजना पर काम कर रहा बोर्डअब दो चरणों में खेला जाएगा टूर्नामेंट

मुंबई: देश में कोरोना वायरस महामारी का कहा जारी है। इस बीच कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने रणजी ट्रॉफी को लेकर नई योजना बनाई है। ऐसे में शुक्रवार को बीसीसीआई के सचिव जय शाह का कहना है कि सबसे बड़े घरेलू टूर्नामेंट का आयोजन बोर्ड दो चरणों में करेगा। उन्होंने बताया कि पहले चरण में लीग मैच खेले जाएंगे, जबकि दूसरे चरण में नॉकआउट मुकाबले खेले जाएंगे।

यही नहीं, शाह ने यह भी बताया कि जून में रणजी टूर्नामेंट का दूसरा चरण खेला जाएगा। अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि मेरी टीम महामारी के कारण होने वाले किसी भी प्रकार के स्वास्थ्य जोखिम को कम करने के लिए मिलकर काम कर रही है। रणजी ट्रॉफी हमारी सबसे प्रतिष्ठित घरेलू प्रतियोगिता है, जो भारतीय क्रिकेट को एक उल्लेखनीय प्रतिभा पूल प्रदान कर रही है। हम पूरी कोशिश करेंगे कि इस बार हम रणजी के एक शानदार सीजन की मेजबानी करें। बता दें कि 13 जनवरी से रणजी ट्रॉफी का आयोजन होना था, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से इसे टालना पड़ा। 38 टीमें इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेती हैं।

बताते चलें कि देश में पिछले 24 घंटों में 2,51,209 नए कोविड-19 केस सामने आए हैं, जो गुरुवार के मुकाबले 35,175 कम हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ो के अनुसार, गुरुवार को पिछले 24 घंटे में लाख 86 हजार 384  नए मामले सामने आए थे। फिलहाल, आज की बात करें तो देश में पिछले 24 घंटे में 627 लोगों की मौत हुई है, जबकि 3,47,443 रिकवरी दर्ज़ की गई। 

Open in app