TEAM INDIA: टी20 विश्व कप के लिए कार्तिक और पंत मुख्य खिलाड़ी, कोच द्रविड़ बोले-अंतिम 15 खिलाड़ियों में जगह बनाने के लिए विशिष्ट प्रदर्शन करना होगा

TEAM INDIA: भारत और इंग्लैंड एकमात्र टेस्ट के बाद सात से 17 जुलाई तक सीमित ओवरों के छह मैच खेलेंगे। आस्ट्रेलिया में विश्व कप से पहले 18 से 20 खिलाड़ियों को लेकर निष्पक्ष राय तैयार करना चाहते हैं।

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: June 20, 2022 02:25 PM2022-06-20T14:25:03+5:302022-06-20T14:26:52+5:30

TEAM INDIA Dinesh Karthik and Rishabh Pant main players T20 World Cup coach Rahul Dravid said Special performance make last 15 players | TEAM INDIA: टी20 विश्व कप के लिए कार्तिक और पंत मुख्य खिलाड़ी, कोच द्रविड़ बोले-अंतिम 15 खिलाड़ियों में जगह बनाने के लिए विशिष्ट प्रदर्शन करना होगा

आस्ट्रेलिया में इस साल के आखिर में होने वाले टी20 विश्व कप से पहले कई विकल्प मुहैया करा दिये हैं।

Next
Highlights 18 से 20 शीर्ष खिलाड़ियों की पहचान करना जरूरी है।रुतुराज गायकवाड़ और श्रेयस अय्यर ने विश्व कप के लिए संभावना को कम कर दिया।ऋषभ पंत इस साल के आखिर में आस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारियों का ‘बड़ा’ और ‘अभिन्न’ हिस्सा हैं।

TEAM INDIA: भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ का मानना है कि दिनेश कार्तिक ने अंतिम ओवरों की अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से आस्ट्रेलिया में इस साल के आखिर में होने वाले टी20 विश्व कप से पहले कई विकल्प मुहैया करा दिये हैं।

द्रविड़ इसके साथ ही इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के आखिर तक विश्व कप के लिये मुख्य टीम निर्धारित कर देना चाहते हैं और उन्होंने साफ किया कि अंतिम 15 खिलाड़ियों में जगह बनाने के लिये किसी को भी विशिष्ट प्रदर्शन करना होगा। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज 2-2 से बराबर समाप्त होने के बाद द्रविड़ ने कहा, ‘‘यह देखकर वास्तव में अच्छा लगा कि कार्तिक को जिस भूमिका के लिये चुना गया था, उन्होंने उसे बखूबी निभाया। इससे हमें बहुत अधिक विकल्प मिल जाते हैं।’’

सीरीज का आखिरी मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था

सीरीज का आखिरी मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था। कार्तिक की चौथे टी20 मैच में 27 गेंदों पर 55 रन की पारी के बारे में द्रविड़ ने कहा, ‘‘उन्हें पिछले दो या तीन वर्षों में (आईपीएल में) असाधारण प्रदर्शन करने के कारण चुना गया था और सीरीज में विशेषकर राजकोट में उन्होंने ऐसी पारी खेली।’’

द्रविड़ के अनुसार कार्तिक और हार्दिक पंड्या दो ऐसे बल्लेबाज हैं जो डेथ ओवरों में मैच के समीकरण बदल सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें अच्छा स्कोर बनाने के लिये आखिरी पांच ओवरों में इस तरह के बड़े प्रदर्शन की जरूरत थी और उसने और हार्दिक ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। दोनों ही आखिरी ओवरों में हमारी मुख्य ताकत हैं।’’

भारत और इंग्लैंड एकमात्र टेस्ट के बाद सात से 17 जुलाई तक सीमित ओवरों के छह मैच खेलेंगे

द्रविड़ किसी तरह की समय सीमा तय नहीं करना चाहते हैं, लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ टी20 श्रृंख्ला के आखिर तक वह आस्ट्रेलिया में विश्व कप से पहले 18 से 20 खिलाड़ियों को लेकर निष्पक्ष राय तैयार करना चाहते हैं। भारत और इंग्लैंड एकमात्र टेस्ट के बाद सात से 17 जुलाई तक सीमित ओवरों के छह मैच खेलेंगे।

द्रविड़़ ने कहा, ‘‘आप जैसे ही प्रतियोगिता के करीब जाते हैं आप अपनी अंतिम टीम को लेकर सुनिश्चित होना चाहते हैं। आप आज जिस तरह की दुनिया में जी रहे हैं उसमें अकस्मात बदलाव की भी संभावनाएं हैं। आप विश्व कप में 15 खिलाड़ियों के साथ जाएंगे लेकिन 18 से 20 शीर्ष खिलाड़ियों की पहचान करना जरूरी है।’’

द्रविड़ ने कहा, ‘‘ चोट और अन्य कारणों से बदलाव हो सकते हैं जो आपके नियंत्रण से बाहर हैं लेकिन हम जितनी जल्दी हो सके उस टीम को सुनिश्चित करना चाहते हैं। यह अगली श्रृंखला (आयरलैंड) में होगा या उसके बाद (इंग्लैंड) की श्रृंखला में यह कहना मुश्किल है, लेकिन हम निश्चित रूप से जल्द से जल्द ऐसा करना चाहते हैं।’’

द्रविड़ ने कई खिलाड़ी को बचाव किया

रुतुराज गायकवाड़ (पांच मैचों में 96 रन) और श्रेयस अय्यर (पांच मैचों में 94 रन) ने विश्व कप के लिये अपनी संभावना को कम कर दिया लेकिन द्रविड़ ने इन दोनों का बचाव किया। द्रविड़ ने कहा, ‘‘हम इस तरह की कड़ी प्रतिक्रिया नहीं करने जा रहे हैं। मैं एक श्रृंखला या एक मैच के बाद खिलाड़ी का आकलन करना पसंद नहीं करता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘श्रेयस ने दो मुश्किल विकेट पर अपने इरादे जतलाये थे और रुतुराज ने एक पारी में दिखाया कि वह किस तरह का खिलाड़ी है। हम किसी के प्रदर्शन से निराश नहीं हैं।’’

भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने साफ किया कि अपनी खराब फॉर्म के कारण आलोचकों के निशाने पर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इस साल के आखिर में आस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारियों का ‘बड़ा’ और ‘अभिन्न’ हिस्सा हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की टी20 श्रृंखला में टीम का नेतृत्व करने वाले पंत पांच पारियों में केवल 58 रन ही बना पाये, जिससे सबसे छोटे प्रारूप में उनकी जगह को लेकर सवाल उठने लगे। द्रविड़ ने हालांकि स्पष्ट किया कि पंत टीम में बने रहेंगे।

बीच के ओवरों में थोड़ा आक्रामक क्रिकेट खेलने की जरूरत पड़ती

द्रविड़ ने पांचवें मैच के बारिश की भेंट चढ़ जाने के कारण सीरीज 2-2 से बराबर छ्रटने के बाद कहा, ‘‘निजी तौर पर वह कुछ और रन बनाना पसंद करता, लेकिन यह उससे संबंधित नहीं है। निश्चित रूप से वह अगले कुछ महीनों में हमारी योजनाओं का बहुत बड़ा हिस्सा है।’’ मुख्य कोच की राय स्पष्ट थी कि वह किसी एक सीरीज के आधार पर किसी खिलाड़ी का आकलन नहीं करेंगे फिर चाहे वह बल्लेबाजी हो या कप्तानी। द्रविड़ ने कहा, ‘‘मैं आलोचनात्मक रवैया नहीं अपनाना चाहता। बीच के ओवरों में थोड़ा आक्रामक क्रिकेट खेलने की जरूरत पड़ती है।

कभी-कभी दो या तीन मैचों के आधार पर आकलन करना मुश्किल होता है।’’ असल में द्रविड़ आईपीएल के दौरान पंत की 158 से अधिक की स्ट्राइक रेट से प्रभावित थे, जिसमें इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से 340 रन बनाये थे जो कि अपेक्षानुसार नहीं थे।

द्रविड़ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि स्ट्राइक रेट के मामले में आईपीएल में उनका प्रदर्शन बहुत अच्छा था, भले ही औसत के मामले में यह अच्छा नहीं लग रहा था। आईपीएल में वह (औसत के मामले में) बेहतर करना चाहते थे और शायद तीन साल पहले उन्होंने खूब रन बनाकर अच्छा औसत हासिल किया था।’’

पंत का बचाव

उन्होंने कहा, ‘‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह आंकड़ा हासिल करने में सफल रहेंगे।’’ पंत की कप्तानी के बारे में द्रविड़ को लगता है कि सीरीज के पहले दो मैच गंवाने के बाद टीम को वापसी दिलाकर उन्होंने अच्छी भूमिका निभायी।

द्रविड़ ने कहा, ‘‘टीम को 0-2 से वापसी दिलाना, श्रृंखला 2-2 से बराबर करना और जीत के अवसर पैदा करना अच्छा प्रदर्शन था। कप्तानी केवल जीत और हार से नहीं जुड़ी है। वह (पंत) एक युवा कप्तान है और सीख रहा है। अभी उनका आकलन करना करना जल्दबाजी होगी और एक श्रृंखला के बाद ऐसा नहीं किया जा सकता है।’’

Open in app