वेंकटेश अय्यर से गेंदबाजी नहीं कराने पर बिफरे सुनील गावस्कर, कहा- जब सभी की बॉलिंग फेल हुई तब मौका क्यों नहीं दिया

भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने दक्षिण अफ्रीका के बोलैंड पार्क में खेले गये वनडे सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया को मिली हार पर गहरी निराशा जाहिर की है।

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: January 20, 2022 07:27 PM2022-01-20T19:27:27+5:302022-01-20T21:42:07+5:30

Sunil Gavaskar upset over Venkatesh Iyer not getting bowled, said, when everyone's bowling failed then why not give a chance | वेंकटेश अय्यर से गेंदबाजी नहीं कराने पर बिफरे सुनील गावस्कर, कहा- जब सभी की बॉलिंग फेल हुई तब मौका क्यों नहीं दिया

सुनील गावस्कर ने वैंकटेश को गेंदबाजी में मौका नहीं मिलने पर नाराजगी व्यक्त की है

Next
Highlightsऑलराउंडर वैंकटेश अय्यर ने इसी मैच से टीम इंडिया में डेब्यू किया हैवेंकटेश अय्यर आईपीएल के 2021 के संस्करण में उम्दा खेल का प्रदर्शन कर चुके हैं

दक्षिण अफ्रीका के बोलैंड पार्क में खेले गये पहले वनडे में भारत को मिली करारी हार पर पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कप्तान केएल राहुल की कड़ी आलोचना की है।

भारत के महान पूर्व बल्लेबाज ने दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले जा रहे वनडे सीरीज के पहले मैच में ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर को पूरे मैच में एक भी ओवर नहीं देने के लिए कप्तान राहुल को आड़े हाथों लिया है।

गावस्कर का कहना है कि जब भारतीय कप्तान केएल राहुल मैच के दौरान देख रहे थे कि दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों में कप्तान टेम्बा बावुमा और रसी वान डर डुसेन ने 200 से अधिक रनों की साझेदारी की ओर बढ़ रहे हैं तो उनकी जोड़ी को तोड़ने के लिए अय्यर से गेंदबाजी करानी चाहिए थी क्योंकि उन दोनों के सामने भारतीय गेंदबाजों की कोई लाइन-लेंथ मैच ही नहीं कर रही थी। 

इसके साथ ही उनका कहना था कि इंडियन टीम में बतौर ऑलराउंडर शामिल किये गये वैंकटेश अय्यर के कारण सूर्य कुमार यादव को टीम में मौका नहीं मिला। ऐसे में अय्यर को गेंदबाजी नहीं कराना समझ के परे है और अगर उनसे गेंद नहीं डलवानी थी तो सूर्य कुमार को चुन जा सकता था, जो शायद एक बेहतर विकल्प साबित होते। 

यही नहीं गावस्कर कप्तान केएल राहुल के इस फैसले से भी हैरान हैं कि वेंकटेश जैसा गेंदबाज, जिसकी बॉलिंग के बारे में विरोधी टीम ज्यादा नहीं जानती है। अगर उन्हें गेंद दी जाती तो शायद कप्तान बावुमा और वान डर डूसेन सस्ते में पैवेलियन वापस चले जाते और टीम इंडिया लड़ाई में वापस आ सकती थी। 

मालूम हो कि ऑलराउंडर वैंकटेश अय्यर ने इसी मैच से भारत के लिए डेब्यू किया है और उन्हें बतौर छठें बॉलर के तौर पर टीम में जगह दी गई थी लेकिन कप्तान केएल राहुल ने पूरे मैच में केवल पांच गेंदबाजों से बॉलिंग कराई और वैंकटेश अय्यर को मौका नहीं मिला। जबकि टीम इंडिया में सेलेक्ट होने से पहले वेंकटेश अय्यर ने घरेलू मैचों और आईपीएल के 2021 के संस्करण में उम्दा खेल का प्रदर्शन किया था। 

Open in app