घरेलू क्रिकेट के दिग्गज सैयद हैदर अली नहीं रहे, 113 प्रथम श्रेणी मैच में 366 विकेट, तीन बार 10 विकेट और 25 बार पांच विकेट चटकाए

पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटर रजा ने कहा, ‘‘पिछले कुछ समय से सैयद हैदर अली को छाती में जकड़न हो रही थी। डॉक्टर से जांच के बाद हम घर लौट रहे थे कि अचानक वह गिर गये। उनका शनिवार को दोपहर करीब डेड़ बजे निधन हुआ। ’’

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: November 6, 2022 03:22 PM2022-11-06T15:22:38+5:302022-11-06T15:25:03+5:30

legend Syed Haider Ali ‘Godfather’ of Railway Cricket, dies 366 wickets in 113 first-class matches, 10 wickets thrice and 25 five wickets | घरेलू क्रिकेट के दिग्गज सैयद हैदर अली नहीं रहे, 113 प्रथम श्रेणी मैच में 366 विकेट, तीन बार 10 विकेट और 25 बार पांच विकेट चटकाए

113 प्रथम श्रेणी मैचों में 366 विकेट झटके जिसमें उन्होंने तीन बार 10 विकेट और 25 बार पांच विकेट चटकाये। 

Next
Highlightsहैदर अली ने 1963-64 सत्र में रेलवे के लिये प्रथम श्रेणी पदार्पण किया था।करीब 25 साल तक टीम के लिये खेले थे। 113 प्रथम श्रेणी मैचों में 366 विकेट झटके जिसमें उन्होंने तीन बार 10 विकेट और 25 बार पांच विकेट चटकाये। 

नई दिल्लीः घरेलू क्रिकेट के दिग्गज सैयद हैदर अली का लंबी बीमारी से जूझने के बाद निधन हो गया। वह 79 वर्ष के थे। हैदर का निधन शनिवार को प्रयागराज में हुआ, उनके परिवार में दो बेटे सैयद शेर अली और रजा अली हैं। बायें हाथ के बेहतरीन स्पिनर हैदर अली कभी भारत के लिये नहीं खेल सके।

पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटर रजा ने कहा, ‘‘पिछले कुछ समय से उन्हें छाती में जकड़न हो रही थी। डॉक्टर से जांच के बाद हम घर लौट रहे थे कि अचानक वह गिर गये। उनका शनिवार को दोपहर करीब डेड़ बजे निधन हुआ। ’’

हैदर अली ने 1963-64 सत्र में रेलवे के लिये प्रथम श्रेणी पदार्पण किया था और करीब 25 साल तक टीम के लिये खेले थे। उन्होंने 113 प्रथम श्रेणी मैचों में 366 विकेट झटके जिसमें उन्होंने तीन बार 10 विकेट और 25 बार पांच विकेट चटकाये। 

Open in app