IPL 2021: 40 साल के करिश्माई कप्तान धोनी ने जीता खिताब, कोच स्टीफन फ्लेमिंग बोले-आईपीएल के सभी चारों खिताब काफी विशेष हैं

IPL 2021:  चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कोच स्टीफन फ्लेमिंग काफी गर्व महसूस कर रहे थे और संतुष्ट थे कि 40 साल के करिश्माई कप्तान महेंद्र सिंह की अगुआई में टीम ने शुक्रवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रन से शिकस्त देकर खिताब अपने नाम किया।

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: October 16, 2021 02:22 PM2021-10-16T14:22:22+5:302021-10-16T14:23:37+5:30

IPL 2021 40-year old captain ms Dhoni won title coach Stephen Fleming said all four IPL titles are very special | IPL 2021: 40 साल के करिश्माई कप्तान धोनी ने जीता खिताब, कोच स्टीफन फ्लेमिंग बोले-आईपीएल के सभी चारों खिताब काफी विशेष हैं

हमें खुशी है कि वह सत्र का अंत शानदार तरीके से कर सका। वह शानदार खिलाड़ी है।

Next
Highlightsखिलाड़ियों की उम्र को लेकर काफी आलोचना होती थी लेकिन खिताब जीतना शानदार रहा।2018 में वापसी में खिताब जीतना भी टीम के लिये काफी भावनात्मक रहा था।खिताब को रैंकिंग देना काफी मुश्किल है।

IPL 2021: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चौथी बार चैम्पियन बनी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि उनके उम्रदराज योद्धाओं की सफलता का राज यह है कि वे विश्लेषण और संख्याओं पर निर्भर रहने के बजाय अंदर की भावना और खिलाड़ियों के साथ रिश्ते पर भरोसा करते हैं।

फ्लेमिंग काफी गर्व महसूस कर रहे थे और संतुष्ट थे कि 40 साल के करिश्माई कप्तान महेंद्र सिंह की अगुआई में टीम ने शुक्रवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रन से शिकस्त देकर खिताब अपने नाम किया। फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘हमारे खिलाड़ियों की उम्र को लेकर काफी आलोचना होती थी लेकिन खिताब जीतना शानदार रहा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘अनुभव काफी महत्वपूर्ण है, जो खिलाड़ी टीम में हैं और पहले ऐसा कर चुके हैं, उनसे टीम में काफी अनुभव शामिल होता है। हम विश्लेषण और संख्या में ज्यादा गहराई तक नहीं जाते, हम अंदर की भावना और खिलाड़ियों के साथ रिश्ते बनाने पर विश्वास करते हैं। यह पारपंरिक है लेकिन हमारे लिये यह कारगर होती है। ’’

फ्लेमिंग ने कहा कि उनके लिये आईपीएल के सभी चारों खिताब काफी विशेष हैं लेकिन मौजूदा ट्राफी उनके लिये काफी अहमियत रखती है क्योंकि यह उस टीम ने जीती है जिसे टूर्नामेंट के शुरू में चुका हुआ मान लिया गया था। फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘इस खिताब को रैंकिंग देना काफी मुश्किल है। यह इसलिये भी विशेष है क्योंकि आप इतनी मेहनत करते हो और यह मेहनत का नतीजा है इसलिये ये खिताब उनके लिये बहुत विशेष हैं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि 2018 में वापसी में खिताब जीतना भी टीम के लिये काफी भावनात्मक रहा था लेकिन इस बार काफी कड़ी मेहनत की गयी है। मुझे नहीं लगता कि काफी लोगों को हमसे कोई उम्मीद होगी कि हम इस चक्र के दौरान अपनी प्रतिस्पर्धिता बरकरार रख पायेंगे। हमें चुका हुआ मान लिया गया था। ’’

फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘इसलिये इसे लेकर थोड़ा सा संतोष भी है और खिलाड़ियों पर गर्व है कि वे कई महीनों के बाद उन मानकों पर जारी रहे और इन्हें हासिल कर सके जबकि यह उम्रदराज होती टीम के लिये एक चुनौती थी। उन्होंने जो किया और वे जिस तरह से खेले, मुझे उन पर काफी गर्व है। ’’

उन्होंने साथ ही रुतुराज गायकवाड़ की भी प्रशंसा की जो इस सत्र में सबसे ज्यादा रन जुटाने वाले खिलाड़ी रहे। फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘हां, मैं भी उसे भारतीय क्रिकेट के अगले सितारे के रूप में देखता हूं। वह (रुतुराज) मेरी निगाहों में पहले ही सुपरस्टार है। जब हमने उसे पिछले साल उतारा था तो लोग थोड़ी आलोचना कर रहे थे लेकिन हमें उससे काफी उम्मीदें थीं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि वह सत्र का अंत शानदार तरीके से कर सका। वह शानदार खिलाड़ी है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसने इस साल सलामी जोड़ी के रूप में बेहतरीन प्रदर्शन किया। उसके साथ फाफ (डु प्लेसिस) ने इतने सारे रन जुटाये, जिसकी बदौलत भी हम आईपीएल खिताब जीत सके। ’’ 

Open in app