Ind Vs Eng: हरमनप्रीत कौर की धमाकेदार पारी, नाबाद 143 रन बनाए, भारतीय महिला टीम ने 23 साल बाद जीती इंग्लैंड में वनडे सीरीज

भारतीय महिला टीम ने इंग्लैंड में इतिहास रचते हुए मेजबान टीम के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त बना ली है। 23 साल बाद भारतीय महिला टीम इंग्लैंड में वनडे सीरीज जीतने का कारनामा किया है।

By भाषा | Published: September 22, 2022 10:55 AM2022-09-22T10:55:17+5:302022-09-22T11:04:39+5:30

Harmanpreet Kaur and Renuka Singh performance, India wins ODI series in England after 23 years | Ind Vs Eng: हरमनप्रीत कौर की धमाकेदार पारी, नाबाद 143 रन बनाए, भारतीय महिला टीम ने 23 साल बाद जीती इंग्लैंड में वनडे सीरीज

इंग्लैंड के खिलाफ हरमनप्रीत कौर की धमाकेदार पारी (फाइल फोटो)

Next
Highlightsइंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में भारतीय महिला टीम की 88 रनों से जीत।हरमनप्रीत कौर ने इस मैच में 111 गेंदों पर नाबाद 143 रनों की पारी खेली, 18 चौके और चार छक्के लगाए।भारत की जीत में रेणुका सिंह का भी अहम योगदान रहा, उन्होंने चार विकेट झटके।

कैंटरबरी: कप्तान हरमनप्रीत कौर की नाबाद 143 रन की आकर्षक शतकीय पारी और रेणुका सिंह के चार विकेट की मदद से भारत ने दूसरे महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में इंग्लैंड को 88 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 से अजेय बढ़त हासिल की। भारतीय महिला टीम ने इस तरह से इंग्लैंड की धरती पर 1999 के बाद पहली बार एकदिवसीय श्रृंखला जीती। उसने 23 साल पहले इंग्लैंड को 2-1 से हराया था।

हरमनप्रीत ने अपनी शतकीय पारी में 111 गेंदों का सामना करके 18 चौके और चार छक्के लगाए। यह उनका वनडे क्रिकेट में पांचवा और इंग्लैंड के खिलाफ दूसरा शतक है।

उनके अलावा हरलीन देओल ने 58 और सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने 40 रन का योगदान दिया जिससे भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 333 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। यह भारतीय महिला टीम का वनडे क्रिकेट में दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है। उसने इससे पहले 2017 में आयरलैंड के खिलाफ पोटचेफ्सट्रूम में दो विकेट पर 358 रन बनाए थे।

रेणुका सिंह ने झटके चार विकेट

हरमनप्रीत की शानदार बल्लेबाजी के बाद मध्यम गति के गेंदबाज रेणुका सिंह ने गेंदबाजी में कमाल दिखाया तथा 57 रन देकर चार विकेट लिए जिससे भारत ने इंग्लैंड को 44.2 ओवर में 245 रन पर आउट कर दिया। उसकी तरफ से डैनी वाइट ने सर्वाधिक 65 रन बनाए। भारत इस तरह से दिग्गज तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी को शानदार विदाई देने में सफल रहा जो अपनी आखिरी वनडे श्रृंखला खेल रही हैं।

भारत और इंग्लैंड के बीच शनिवार को लॉर्डस में होने वाला तीसरा मैच झूलन का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आखिरी मैच होगा और भारतीय टीम उसमें जीत दर्ज करके क्लीन स्वीप के साथ अपनी इस स्टार खिलाड़ी को विदाई देना चाहेगी। भारत इससे पहले टी20 श्रृंखला 1-2 से हार गया था लेकिन वनडे में वह शानदार वापसी करने में सफल रहा और इसका श्रेय कप्तान हरमनप्रीत को जाता है जिन्होंने लगातार मैचों में शानदार पारियां खेली।

हरमनप्रीत ने पहले मैच में नाबाद 74 रन बनाए थे जिसमें भारत ने सात विकेट से जीत दर्ज की थी। भारत ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा (आठ) का विकेट जल्दी गंवा दिया जिसके बाद मंधाना और यास्तिका भाटिया (26) ने पारी संवारने का अच्छा प्रयास किया। इन दोनों के आउट होने के बाद हरमनप्रीत और हरलीन ने चौथे विकेट के लिए 113 रन की साझेदारी करके बड़े स्कोर की नींव रखी।

आखिरी तीन ओवर में भारत ने बनाए 62 रन

हरमनप्रीत ने इसके बाद पूजा वस्त्राकर (18) के साथ 50 रन और दीप्ति शर्मा (नाबाद 15) के साथ 71 रन की दो उपयोगी साझेदारी की। भारत ने आखिरी तीन ओवर में 62 रन जोड़े। इंग्लैंड बड़े लक्ष्य के सामने शुरू में ही दबाव में आ गया और रेणुका सिंह ने उसे लगातार झटके दिए। हरमनप्रीत ने टैमी ब्यूमोंटे (छह) को बेहतरीन थ्रो पर रन आउट किया जबकि रेणुका ने सोफिया डंकले (एक) और एम्मा लैम्बे (15) को भी जल्द पवेलियन भेज दिया। इससे इंग्लैंड का स्कोर तीन विकेट पर 47 रन हो गया।

इसके बाद भी उसने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए। ऐलिस कैप्सी (39), वाइट, कप्तान एमी जोंस (39) और चार्ली डीन (37) का प्रयास हार का अंतर ही कम कर पाया। भारत की तरफ से रेणुका के अलावा डी हेमलता ने छह रन देकर दो जबकि शेफाली वर्मा और दीप्ति शर्मा ने एक-एक विकेट लिया। झूलन ने सात ओवर में 31 रन दिए लेकिन उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। हरमनप्रीत को मैच की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया।

Open in app