कोविड के नये स्वरूप के कारण भारत के दक्षिण अफ्रीकी दौरे को लेकर चिंता

By भाषा | Published: November 26, 2021 04:50 PM2021-11-26T16:50:51+5:302021-11-26T16:50:51+5:30

Concerns about India's South African tour due to new nature of Kovid | कोविड के नये स्वरूप के कारण भारत के दक्षिण अफ्रीकी दौरे को लेकर चिंता

कोविड के नये स्वरूप के कारण भारत के दक्षिण अफ्रीकी दौरे को लेकर चिंता

Next

कानपुर, 26 नवंबर दक्षिण अफ्रीका में दहशत पैदा करने वाले कोविड-19 के नये स्वरूप के कारण भारत के अगले महीने के दौरे को लेकर चिंता पैदा हो गयी है और आगामी दिनों में खिलाड़ियों के लिये पृथकवास के नियमों में बदलाव हो सकता है।

भारत को 17 दिसंबर से शुरू होने वाले अपने लगभग सात सप्ताह के दौरे में तीन टेस्ट, तीन वनडे और चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने हैं। ये मैच चार स्थानों जोहानिसबर्ग, सेंचुरियन, पार्ल और केपटाउन में खेले जाएंगे।

देश के उत्तरी हिस्से में मामले बढ़ रहे हैं और टेस्ट श्रृंखला के कम से कम दो स्थलों जोहानिसबर्ग और प्रिटोरिया (सेंचुरियन के करीब) में इस नये स्वरूप की चपेट में आ सकते हैं।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को पीटीआई से कहा, ‘‘देखिये जब तक हमें क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) से वहां की स्थिति का पता नहीं चल जाता तब तक हम अपने अगले कदम के बारे में नहीं बता पाएंगे। वर्तमान कार्यक्रम के अनुसार भारतीय टीम को मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला समाप्त होने के बाद आठ या नौ दिसंबर को रवाना होना है।’’

बीसीसीआई भले ही वर्तमान में दौरे को लेकर कुछ नहीं कहना चाहता है लेकिन अगले कुछ दिनों में वह सीएसए से नये प्रकार बी.1.1.529 के बारे में बात कर सकता है जिसने पूरी दुनिया को सतर्क कर दिया है।

बीसीसीआई अधिकारी ने संकेत दिये कि भले ही खिलाड़ियों को मुंबई से जोहानिसबर्ग चार्टर्ड विमान से भेजा जाएगा लेकिन बदली परिस्थितियों में उन्हें तीन या चार दिन के कड़े पृथकवास में रहना पड़ सकता है।

उन्होंने कहा, ‘‘ पहले कड़े पृथकवास का कोई प्रावधान नहीं था लेकिन निश्चित तौर पर खिलाड़ी बायो बबल (जैव सुरक्षित वातावरण) में रहेंगे। अब दक्षिण अफ्रीका में मामले बढ़ रहे हैं और यूरोपीय यूनियन ने भी अस्थायी तौर पर वहां की उड़ानें रद्द कर दी हैं, हमें इन पहलुओं पर गौर करने की जरूरत है। ’’

भारत ए टीम अभी दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर है।पीटीआई ने भारत ए टीम के साथ ब्लोमफोंटेन में प्रशासनिक अधिकारी से संपर्क किया।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें यहां पहुंचने पर कड़े पृथकवास से नहीं गुजरना पड़ा था क्योंकि हम चार्टर्ड विमान से आये थे और बायो बबल में रह रहे थे। नये मामले पाये जाने के बाद क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका की चिकित्सा टीम ने यहां हमारे प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। ’’

अधिकारी ने फोन पर कहा, ‘‘हमें कहा गया है कि चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि जहां मामले पाये गये हैं वह क्षेत्र ब्लोमफोंटेन से काफी दूर है जहां हमें अपने अगले दो मैच भी खेलने हैं।’’

उन्होंने यह भी बताया कि शुक्रवार तक भारत ए टीम को बीसीसीआई से किसी तरह के निर्देश नहीं मिले थे।

भारतीय टीम का दक्षिण अफ्रीकी दौरे का कार्यक्रम इस प्रकार है:

पहला टेस्ट: 17-21 दिसंबर: वांडरर्स, जोहानिसबर्ग

दूसरा टेस्ट: 26-30 दिसंबर: सुपरस्पोर्ट पार्क, सेंचुरियन

तीसरा टेस्ट: 3-7 जनवरी: न्यूलैंड्स, केपटाउन

पहला वनडे: 11 जनवरी: बोलैंड पार्क, पार्ल

दूसरा वनडे: 14 जनवरी: न्यूलैंड्स, केपटाउन

तीसरा वनडे: 16 जनवरी: न्यूलैंड्स, केपटाउन

पहला टी20: 19 जनवरी: न्यूलैंड्स, केपटाउन

दूसरा टी20: 21 जनवरी: न्यूलैंड्स, केपटाउन

तीसरा टी20: 23 जनवरी: बोलैंड पार्क, पार्ल

चौथा टी20: 26 जनवरी: बोलैंड पार्क, पार्ल।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Open in app