New Zealand’s conservative approach against Bumrah will soon be adopted by other teams, says Shane Bond | जसप्रीत बुमराह को न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में क्यों नहीं मिले विकेट, पूर्व किवी गेंदबाज ने बताया कारण
शेन बॉन्ड ने हालांकि कहा कि भारतीय टीम श्रृंखला 0-3 से हार गई, लेकिन बुमराह की गेंदबाजी बुरी नहीं थी।

Highlightsन्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज शेन बॉन्ड ने जसप्रीत बुमराह का बचाव किया है।बॉन्ड ने कहा कि न्यूजीलैंड ने बुमराह को खतरा माना और उनका सामना सही तरीके से किया।

न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज शेन बॉन्ड ने कहा कि उनकी टीम ने जिस तरह से भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का पारंपरिक तरीके से सामना किया उससे दूसरी टीमें सीख लेंगी। बुमराह न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में एक भी विकेट नहीं ले सके थे। श्रृंखला में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रहने पर बुमराह को आलोचना का सामना करना पड़ा, लेकिन शेन बॉन्ड ने उनका बचाव किया।

शेन बॉन्ड ने पीटीआई को दिए विशेष साक्षात्कार में कहा, ‘‘जब आपके पास जसप्रीत बुमराह की तरह का गेंदबाज हो तो जाहिर है उससे काफी उम्मीदें होंगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि न्यूजीलैंड ने उन्हें खतरा माना और उनका सामना सही तरीके से किया। उन्होंने उसका सामना पारंपरिक तरीके से किया। उनके (बुमराह) साथ टीम में अनुभवहीन गेंदबाज (नवदीव सैनी और शार्दुल ठाकुर) थे, जिसका फायदा न्यूजीलैंड को हुआ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब हर टीम उन्हें खतरे की तरह देखेगी और दूसरे गेंदबाज के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाएंगी।’’

बॉन्ड ने हालांकि कहा कि भारतीय टीम श्रृंखला 0-3 से हार गयी लेकिन बुमराह की गेंदबाजी बुरी नहीं थी। उन्होंने कहा, ‘‘आप मैच में अच्छा करना चाहते हैं। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन कई बार आपको विकेट नहीं मिलता।’’ आईपीएल में मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच के तौर पर बुमराह के साथ समय बिताने वाले शेन बॉन्ड ने कहा कि यह भारतीय गेंदबाज दो टेस्ट की आगामी श्रृंखला में ‘काफी प्रभाव’ डालेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप खराब प्रदर्शन से वापसी करते हैं तब लय हासिल करना हमेशा मुश्किल होता है। उसे इस श्रृंखला से पहले ज्याद मैचों में खेलने का मौका नहीं मिला। न्यूजीलैंड ने एकदिवसीय श्रृंखला में अच्छे से उसका सामना किया लेकिन टेस्ट मैचों में उनका काफी प्रभाव होगा। मुझे इसमें कोई संदेह नहीं है।’’

न्यूजीलैंड को उनके घरेलू मैदान में हराना काफी मुश्किल होता है और शेन बॉन्ड को उम्मीद है कि विलियमसन पांच तेज गेंदबाजों के साथ मैच में जाएंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ न्यूजीलैंड की विकेट के बारे में सबसे बड़ी बात यह है कि यहां गेंद स्पिन नहीं होती है। जो भी टॉस जीतता है वह पहले गेंदबाजी करना चाहता है क्योंकि पहले दिन पिच से सबसे ज्यादा मदद मिलती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर न्यूजीलैंड की टीम बिना किसी स्पिनर के मैच में उतरे तो भी मुझे आश्चर्य नहीं होगा। मैं भी स्पिनर को टीम में नहीं रखना चाहूंगा क्योंकि उसका काम सिर्फ रनगति पर अंकुश लगाना होता है।’’

Web Title: New Zealand’s conservative approach against Bumrah will soon be adopted by other teams, says Shane Bond
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे