इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 12वां सीजन शुरू होने से पहले हम आपको बता रहे हैं इसके 12 साल के फ्लैशबैक के बारे में। साल 2011 के आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स ने एमएस धोनी की कप्तानी में खिताब पर कब्जा किया था। बल्लेबाजों का खेल माने जाने वाले आईपीएल में साल 2011 में भी गेंदबाजों का जलवा रहा और कई खिलाड़ियों ने हुनर का लोहा मनवाया।

लसिथ मलिंगा : मुंबई इंडियंस की ओर से खेलते हुए लसिथ मलिंगा ने 16 मैचों में 375 रन देकर 28 विकेट लिया था। साल 2011 के आईपीएल में मलिंगा सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे और पर्पल कैप का खिताब अपने नाम किया था।

मुनाफ पटेल : आईपीएल 2011 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में मुनाफ पटेल दूसरे नंबर पर रहे थे। उन्होंने 15 मैचों 358 रन दिए थे और 22 विकेट अपने नाम किया था।

श्रीनाथ अरविंद : आईपीएल 2011 में रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के खिलाड़ी श्रीनाथ अरविंद को बेस्ट बॉलर्स की केटेगरी में तीसरा स्थान मिला था। श्रीनाथ ने 13 मैच में 368 रन देकर 21 विकेट लिया था।

रविचंद्रन आश्विन : चेन्नई सुपरकिंग्स के बेहतरीन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने पर्पल कैप की लिस्ट में अपने प्रदर्शन से टॉप 5 में शानदार एंट्री की। उन्होंने 16 मैचों में 388 रन देकर 20 विकेट लिए थे।

अमित मिश्रा : डेक्कन चार्जर्स के खिलाड़ी अमित मिश्रा ने साल 2011 के आईपीएल में 14 मैचों में 358 रन देकर 19 विकेट झटके थे और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में पांचवें नंबर पर रहे थे।

English summary :
Indian Premier League (IPL) the title of the Purple Cap offer for the highest wicket taker players.


Web Title: IPL Flashback: Purple Cap Winner of Indian Premier League 2011
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे