India vs Australia, 4th Test: Ravi Shastri Rousing Dressing Room Speech, watch this video | IND vs AUS, 4th Test: रवि शास्त्री ने जीत के बाद ड्रेसिंग में दी खास स्पीच, इन खिलाड़ियों की हुई जमकर तारीफ, देखें वीडियो
रवि शास्त्री सीरीज जीतने के बाद ड्रेसिंग रूम में स्पीच देते हुए।

Highlightsभारत ने 2-1 से जीती बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी।मैच के बाद इमोशनल हुए कोच रवि शास्त्री।ड्रेसिंग रूम में रवि शास्त्री की खास स्पीच।

India vs Australia, 4th Test: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को चौथे और निर्णायक टेस्ट में 3 विकेट से मात देकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। इस जीत में भारत के युवा खिलाड़ियों का अहम योगदान रहा। जब ऋषभ पंत, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर हाथ में तिरंगा लेकर मैदान पर चक्कर लगा रहे थे, तो यह दृश्य देखकर कोच रवि शास्त्री इमोशनल हो गए।

रवि शास्त्री मैच के बाद दिखे भावुक

रवि शास्त्री ने मैच के बाद कहा, "मैं भावुक हो गया। आमतौर पर मेरी आंख में आंसू नहीं आते लेकिन मैं भी भावुक हो गया। मेरी आंखें भर आई क्योंकि यह अवास्तविक था। इन लड़कों ने जो किया, वह इतिहास में सबसे शानदार जीत में से एक के रूप में दर्ज हो जाएगा।"

रवि शास्त्री बोले- कोच तो ड्रेसिंग रूम में बैठा रहता है

जब रवि शास्त्री से पूछा गया कि खिलाड़ियों को सारी सुर्खियां मिलने से क्या उन्हें लगता है कि श्रेय नहीं मिला? इस पर शास्त्री ने कहा, "कोच का काम होता है लड़कों को मानसिक रूप से तैयार करना। उनका जो माइंडसेट है उसको क्लीयर करने के लिए। ज्यादा पेचीदा करने की जरूरत नहीं और खेल सरल रखा तो काफी काम होता है। और कोच का क्या। वो तो ड्रेसिंग रूम में बैठा रहता है। लड़के बाहर जाकर लड़ते हैं। कोई स्टेटमेंट का जरूरत नहीं। क्रिकेट बात करेगा।"

रवि शास्त्री ने ड्रेसिंग रूम में दी खास स्पीच

मैच के बाद ड्रेसिंग रूम में कोच शास्त्री ने खिलाड़ियों की जमकर तारीफ की। इस दौरान उन्होंने चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत और शुभमन गिल के लिए खास स्पीच दी।

इस जीत से भावुक शास्त्री ने कहा, ‘‘जो साहस, संकल्प और जज्बा आपने दिखाया वह कल्पनातीत है। एक बार भी आपने पीछे मुड़कर नहीं देखा, चोटों से जूझने और 36 रन पर आउट (पहले टेस्ट में) होने के बावजूद आपने खुद पर भरोसा बनाए रखा। यह आत्मविश्वास रातों रात नहीं आया लेकिन अब इस आत्मविश्वास के दम पर आप देख सकते हैं कि एक टीम के तौर पर आप खेल को कहां से कहां तक ले गए। आज भारत ही नहीं पूरा विश्व तुम्हें सैल्यूट करेगा। इसलिए आज तुमने जो किया उसको याद रखें। आपको इस पल का भरपूर आनंद लेना चाहिए। इसे अपने से दूर न जानें दे। इसका जितना लुत्फ उठा सकते हो उठाओ।’’ 

शीर्ष बल्लेबाज और ऑस्ट्रेलिया की शार्ट पिच गेंदों को अपने शरीर पर झेलने वाले चेतेश्वर पुजारा, मैच विजेता ऋषभ पंत के बेजोड़ स्ट्रोक प्ले और युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल के शांतचित जवाबी हमले का शास्त्री ने विशेष जिक्र किया। शास्त्री ने कहा, ‘‘इसकी शुरुआत मेलबर्न से हुई, सिडनी में प्रदर्शन शानदार रहा। इससे हम बराबरी के साथ यहां पहुंचे तथा आज जिस तरह से जीत दर्ज की वह असाधारण थी। शुभमन ने बेजोड़ खेल दिखाया। पुजी (पुजारा) आपको परम योद्धा के रूप में जाना जाएगा। और ऋषभ का तो जवाब नहीं। आपने जिस तरह से बल्लेबाजी की उससे आपने कुछ को हर क्षण दिल का दौरा दिया लेकिन आपने बेहतरीन तरीके से अपनी भूमिका निभाई।’’ 

इस उत्साही माहौल के बीच जो व्यक्ति शांतचित खड़ा था वह रहाणे था और शास्त्री ने उनकी नेतृत्वक्षमता की भी जमकर प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘‘हम जिस स्थिति में थे वहां जिंक्स (रहाणे) ने नेतृत्व संभाला और वहां से जिस तरह से वापसी दिलायी और मैदान पर चीजों को नियंत्रण में रखा वह वास्तव में शानदार था। इस मैच में मैं तीन नये खिलाड़ियों और पहली पारी में उनके प्रदर्शन को नहीं भूलना चाहता हूं। नट्टू, वाशी और शार्दुल क्योंकि उसने जो अपना पहला टेस्ट (2018) खेला था उसमें वह चोटिल हो गया था। आपने जज्बा दिखाया जिससे आस्ट्रेलिया पस्त हो गया कि हम छह विकेट पर 180 के स्कोर से वापसी करके 330 या 340 रन बना सकते हैं।’’

भारत ने हासिल किया 328 रन का टारगेट

पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया द्वारा बनाए गए 369 रन के जवाब में टीम इंडिया 336 रन पर सिमट गई थी। इसके बाद मेजबान टीम ने 294 रन बनाकर जीत के लिए 328 रन का टारगेट दिया। भारत ने मुकाबले के अंतिम घंटे में 3 विकेट शेष रहते रोमांचक जीत दर्ज की।

Web Title: India vs Australia, 4th Test: Ravi Shastri Rousing Dressing Room Speech, watch this video

क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे