india beat bangladesh by 17 runs to enter final nidahas trophy t20 tri series | Nidahas Trophy 2018: रोहित शर्मा की फिफ्टी के बाद सुंदर की फिरकी ने किया कमाल, भारत फाइनल में

Highlightsबांग्लादेश को 17 रनों से हराकर निदाहास ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची टीम इंडियाफॉर्म में लौटे रोहित शर्मा, 89 रनों की धमाकेदारी पारी खेलीवॉशिंगटन सुंदर रहे भारत के सबसे सफल गेंदबाज, बांग्लादेश के तीन बल्लेबाजों का किया आउट

कोलंबो, 14 मार्च: मैन ऑफ द मैच रोहित शर्मा (89) और सुरेश रैना (47) के बीच हुई शतकीय साझेदारी के बाद वॉशिंगटन सुंदर (22-3) के दम पर भारत ने बुधवार को निदास ट्रॉफी त्रिकोणीय सीरीज के पांचवें मैच में बांग्लादेश को 17 रनों से मात देते हुए फाइनल में जगह पक्की कर ली। भारत ने आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए मैच में बांग्लादेश के सामने 177 रनों की चुनौती रखी थी।

बांग्लादेश की टीम मुशफिकुर रहीम की नाबाद 72 रनों की पारी के बावजूद लक्ष्य हासिल नहीं कर पाई और पूरे 20 ओवर खेलने के बाद छह विकेट के नुकसान पर 159 रन ही बना सकी। सुंदर के अलावा भारत के लिए शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज और युजवेंद्र चहल ने एक-एक विकेट लिए। 

वॉशिंगटन की 'सुंदर' गेंदबाजी

लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश को सुंदर ने अच्छी शुरुआत से महरूम रखा। उन्होंने 5.4 ओवरों में 40 के स्कोर तक ही बांग्लादेश के तीन बल्लेबाज पवेलियन भेज दिए। दूसरे ओवर में उन्होंने लिटन दास (7) को दिनेश कार्तिक के हाथों 12 के कुल स्कोर पर स्टंप आउट कराया। 35 के कुल स्कोर पर सुंदर ने शानदार गेंद पर सौम्य सरकार (1) की गिल्लियां बिखेरीं और फिर तमीम इकबाल (27) को अपना शिकार बनाया। (और पढ़ें- Ind Vs Ban T20: रोहित शर्मा ने युवराज सिंह के सबसे ज्यादा छक्के लगाने का तोड़ा रिकॉर्ड)

कप्तान महमुदुल्लाह (11) उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके और चहल की गेंद पर लोकेश राहुल के हाथों लपके गए। 61 रनों पर ही अपने चार विकेट खो चुकी बांग्लादेश को फिर रहीम और सब्बीर रहमान (27) ने संभालने की कोशिश की और पांचवें विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी की, लेकिन ठाकुर ने 17वें ओवर की चौथी गेंद पर रहमान को बोल्ड कर बांग्लादेश की हार लगभग तय कर दी। यह साझेदारी टी-20 में बांग्लादेश के लिए पांचवें विकेट के लिए अभी तक की सबसे बड़ी साझेदारी भी है। 

इसके बाद 150 के कुल स्कोर पर मोहम्मद सिराज ने मेहेदी हसन मिराज (7) को आउट कर बांग्लादेश को छठा झटका दिया। अंतिम ओवर में बांग्लादेश को 28 रनों की दरकार थी जिसे वो हासिल नहीं कर पाई। रहीम ने अपनी नाबाद पारी में 55 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और एक छक्का लगाया।  इससे पहले एक समय बड़े स्कोर की बढ़ते दिख रही भारतीय टीम 20 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 176 रन बना सकी।

रैना आखिरी ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए तो वहीं रोहित आखिरी गेंद पर रन आउट हुए। रोहित ने 61 गेंदों की अपनी पारी में पांच चौके और इतने ही छक्के जड़े। रैना तीन रनों से अपने अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 30 गेंदों की पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए। (और पढ़ें- ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन: साइना नेहवाल पहले ही दौर में वर्ल्ड नंबर-1 खिलाड़ी से हारकर बाहर)

भारत को धवन- रोहित ने दिलाई अच्छी शुरुआत

निर्णायक मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को इस सीरीज में पहली बार अच्छी शुरुआत मिली। रोहित और शिखर धवन (35) ने टीम के लिए पहले विकेट के लिए 9.5 ओवरों में 70 रन जोड़े। धवन और रोहित ने दूसरे ओवर में एक-एक चौका जड़ अपने इरादे जता दिए थे। पांचवें ओवर में बांग्लादेशी कप्तान ने ऑफ स्पिन मेहंदी हसन मिराज को लगाया लेकिन रोहित ने इस ओवर में शानदार छक्का जड़ उनके आत्मविश्वास पर गहरी चोट की। 

इसी बीच फॉर्म में चल रहे धवन, रुबेल की गेंद पर गच्चा खा गए और पवेलियन लौट लिए। उन्होंने 27 गेंदों में पांच चौके और एक छक्का लगाया। इसके बाद रैना ने रोहित का साथ दिया। रैना ने रनों की गति रुकने नहीं दी। इसी बीच रोहित ने 13वें ओवर की चौथी गेंद पर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया। इसके लिए उन्होंने 42 गेंदों का सामना किया। 

रैना ने हसन पर 14वें ओवर में एक छक्का और एक चौका जड़ा। इस जोड़ी ने अंत में तेजी से रन बटोरे। भारत ने आखिरी के पांच ओवरों में 40 रन बटोरे। रैना बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में सीमा रेखा के पास सौम्य सरकार द्वारा लपके गए। उन्होंने रोहित के साथ दूसरे विकेट के लिए 102 रनों की साझेदारी को अंजाम दिया। रोहित आखिरी ओवर में रुबेल की सटीक यॉर्कर के कारण बड़ा शॉट नहीं लगा पाए और रन आउट हो गए। (और पढ़ें- अश्विन ने IPL के लिए बनाई खास रणनीति, अब अलग तरह की गेंदबाजी करते आएंगे नजर)