Hardik Pandya not among top 10 all-rounders in any format of the game: Irfan Pathan | बेन स्टोक्स का नाम लेकर बोले इरफान पठान, 'हार्दिक पंड्या खेल के किसी भी फॉर्मेट में टॉप-10 ऑलराउंडरों में नहीं हैं'
इरफान पठान ने कहा कि हार्दिक पंड्या को मैच विनर बनने में अभी लंबा सफर करना है तय (File Pic)

Highlightsदुर्भाग्य से, हार्दिक पंड्या खेल के किसी भी प्रारूप में शीर्ष 10 (रैंकिंग पर) में नहीं हैं: पठानटीम इंडिया के लिए ऐसा हरफनमौला खिलाड़ी हो, जो भारत के लिए मैच जीत सके: इरफान पठान

ऐसे समय में जब बेन स्टोक्स और जेसन होल्डर जैसे खिलाड़ी अपने ऑलराउंडर प्रदर्शन के साथ अपनी टीमों के लिए मैच जीत रहे हैं, तो भारत के पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान का मानना ​​है कि भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की प्रतिभा की चमक काफी नहीं है।

हाल ही में भारतीय टीम में बेन स्टोक्स जैसे मैच विजेता ऑलराउंडर होने के महत्व पर प्रकाश डालने वाले इरफान ने कहा कि पंड्या को अब भी मैच-विजेता बनने के लिए लंबा रास्ता तय करना है।

एचटी की रिपोर्ट के मुताबिक, इरफान ने cricket.com से कहा, 'बेन स्टोक्स इंग्लैंड के लिए मैच जीतते हुए दुनिया में नंबर एक ऑलराउंडर बने हैं। मेरी यही ख्वाहिश है कि टीम इंडिया के लिए ऐसा हरफनमौला खिलाड़ी हो, जो भारत के लिए मैच जीत सके।'

किसी भी फॉर्मेट में टॉप-10 में नही हैं हार्दिक पंड्या: इरफान पठान

इरफान ने कहा कि पंड्या में क्षमता है लेकिन वर्तमान में वह किसी भी प्रारूप में शीर्ष ऑलराउंडरों में नहीं हैं। आईसीसी की वनडे और टेस्ट की ऑलराउंडरों की सूची में शामिल एकमात्र भारतीय हैं रवींद्र जडेजा।

इरफान ने कहा, 'दुर्भाग्य से, हार्दिक पंड्या खेल के किसी भी प्रारूप में शीर्ष 10 (रैंकिंग पर) में नहीं हैं। उनके पास क्षमता है, इसमें तो कोई शक ही नहीं है। लेकिन मैं यह कह रहा हूं कि अगर हमारे पास उस तरह की क्षमता वाला एक ऑलराउंडर है जो मैच जीतता है, तो भारतीय क्रिकेट अजेय होगी। अगर आप खिलाड़ी से खिलाड़ी की तुलना करते हैं, तो हम दुनिया की किसी भी अन्य क्रिकेट टीम से बहुत बेहतर हैं। आपको बस सबको साथ लाने के लिए एक टुकड़े की जरूरत है और वह एक टुकड़ा ऑल-राउंडर के रूप में।'

इरफान पठान ने कहा कि मैच विनर बनने के लिए पंड्या को अभी लंबा सफर तय करना है (File Pic)
इरफान पठान ने कहा कि मैच विनर बनने के लिए पंड्या को अभी लंबा सफर तय करना है (File Pic)

लंबे समय से टीम इंडिया से बाहर हैं पंड्या

हाल ही में पिता बने पांड्या अपने छोटे से अंतरराष्ट्रीय करियर में कई बार चोटों के शिकार हुए हैं। यूएई में एशिया कप 2018 के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ मैच में पीठ में चोट के कारण कुछ समय के लिए एक्शन से बाहर होने के बाद, इस ऑलराउंडर ने अगले साल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के दौरे पर वापसी की थी। लेकिन दुर्भाग्य से, वह पिछले साल सितंबर में बेंगलुरु में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक टी20 के दौरान फिर से घायल हो गए थे।

ये ऑलराउंडर तब से ही भारतीय टीम से बाहर है। उन्होंने फरवरी-मार्च में डीवाई पाटिल कप के दौरान अपनी फिटनेस साबित की थी और अब आईपीएल 2020 के खेले जाने का इंतजार कर रहे हैं, जिसे सितंबर-नवंबर के दौरान यूएई में खेला जाना है।

भारतीय टीम में पंड्या की भूमिका अहम है क्योंकि उनकी बिग हिटिंग क्षमता और चालाकी से गेंदबाजी उन्हें खास खिलाड़ी बनाती है। कपिल देव के संन्यास के बाद से ही भारतीय टीम एक बेहतरीन सीम गेंदबाजी ऑलराउंडर पाने में नाकाम रही है। इरफान को भी कुछ सफलता मिली थी लेकिन उन्होंने कहा कि वह कपिल देव के स्टैंडर्ड से काफी दूर थे। 

इरफान ने कपिल से खुद की तुलना से किया इनकार

इरफान ने कहा, 'वास्तव में, कोई भी इसे पसंद नहीं करेगा क्योंकि मेरे पास एक महान प्रबंधन कंपनी नहीं है जो मेरा पीआर कर रही हो। मेरे पास वह नहीं है। मैंने अपने दम पर क्रिकेट खेला। मेरे पास कोई गॉडफादर नहीं है। माइक के पीछे बैठे कुछ बड़े लोग - मेरी उपलब्धि की बात नहीं करते हैं और मुझे इससे समस्या नहीं है। मुझे इससे कोई पछतावा नहीं है।'

इरफान ने कहा, 'वास्तव में, यदि आप उस स्तर तक पहुंचते हैं, तो आप कपिल पाजी के बारे में सोच सकते हैं। मैं इसके साथ ठीक हूं। जब तक मेरी टीम जीतती है और जब तक कोई उस जगह पर प्रदर्शन कर रहा है, जो टीम के लिए अपना काम कर रहा है और मैच जीत रहा है, तब तक कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह कपिल देव बन जाए या इरफान पठान न बन पाए। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।'

Web Title: Hardik Pandya not among top 10 all-rounders in any format of the game: Irfan Pathan
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे