महाअष्टमी पर श्रद्धालुओं ने दुर्गा पंडालों में किये दर्शन, सड़कों पर दिखी भीड़

By भाषा | Published: October 13, 2021 07:36 PM2021-10-13T19:36:36+5:302021-10-13T19:36:36+5:30

Devotees visited Durga pandals on Maha Ashtami, crowds were seen on the streets | महाअष्टमी पर श्रद्धालुओं ने दुर्गा पंडालों में किये दर्शन, सड़कों पर दिखी भीड़

महाअष्टमी पर श्रद्धालुओं ने दुर्गा पंडालों में किये दर्शन, सड़कों पर दिखी भीड़

Next

कोलकाता, 13 अक्टूबर पश्चिम बंगाल में श्रद्धालुओं ने बुधवार सुबह महाअष्टमी पर 'पुष्पांजलि' अर्पित की और 'कुमारी पूजा' जैसे अनुष्ठान किये गए। वहीं पुजारियों ने लाउडस्पीकर पर मंत्रों का उच्चारण किया और आयोजक दुर्गा पूजा पंडालों में भीड़ के प्रबंधन में लगे रहे।

दस दिवसीय उत्सव के आठवें दिन लोग शहर और अन्य जगहों पर पूजा पंडालों में पहुंचे।

पिछले साल के विपरीत इस साल लोगों ने कोविड19 रोधी टीके की दोनों खुराकें ले ली हैं। लोग रेस्तरां और सड़क किनारे खाने-पीने के स्टालों के बाहर भी कतार में लगे दिखे। वहीं कुछ लोग सेल्फी लेने या उमस भरे मौसम में आसानी से सांस लेने के लिए मास्क हटाते भी दिखे।

शहर के सामुदायिक पूजा आयोजकों के लिए शीर्ष निकाय फोरम फॉर दुर्गोत्सव के संस्थापक सदस्य पार्थ घोष ने कहा कि लोगों को पिछले डेढ़ साल में लगाए गए प्रतिबंधों से कुछ राहत की जरूरत थी।

शिव मंदिर पूजा समिति के पदाधिकारी घोष ने कहा, ‘‘पिछले साल की तुलना में इस बार पंडालों में आने वालों की संख्या निश्चित रूप से अधिक है, क्योंकि लोग टीके की खुराक लेने के बाद अब कोविड-19 से भयभीत नहीं हैं।’’

हालांकि, इन अटकलों के बीच कि त्योहार के बाद कोविड-19 के मामले बढ़ सकते हैं, आयोजक और पुलिसकर्मी कुछ जगहों पर भीड़ से बचने और हर समय मास्क पहनने का आग्रह करते दिखे।

उत्तर कोलकाता में बागबाजार सरबोजोनिन दुर्गा पूजा समिति के एक आयोजक माइक पर लोगों से कहते सुने गए, ‘‘कृपया अपनी सुरक्षा के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करें। आपको इस वर्ष सभी पंडालों को देखने की आवश्यकता नहीं है। पूरे दिन घर से बाहर न रहें।’’

श्रीभूमि स्पोर्टिंग में भी इसी तरह के दृश्य दिखे जहां दुबई के बुर्ज खलीफा की प्रतिकृति का पंडाल बनाया गया था।

रामकृष्ण मिशन (आरकेएम) के वैश्विक मुख्यालय बेलूर मठ के अधिकारियों ने पिछले साल की तरह अपने परिसर में किसी भी आगंतुक को प्रवेश की अनुमति नहीं दी। जयरामबती और कामरपुकुर में आरकेएम इकाइयों में भी किसी भी आगंतुक को प्रवेश की अनुमति नहीं थी। बेलूर मठ की आधिकारिक वेबसाइट पर अनुष्ठानों का सीधा प्रसारण किया गया।

महिलाएं दिन के दौरान, 'संधि पूजा' की तैयारी करती देखी गईं।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बरिशा प्लेयर्स कॉर्नर में 'पुष्पांजलि' अर्पित की।

वहीं विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने पुर्वी मेदिनीपुर जिले के कांथी में एक सामुदायिक पंडाल में दर्शन किया जबकि तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता कुणाल घोष ने उत्तरी कोलकाता में राममोहन सम्मिलनी पूजा पंडाल में 'पुष्पांजलि' अर्पित की।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Devotees visited Durga pandals on Maha Ashtami, crowds were seen on the streets

क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे