Delhi: Feroz Shah Kotla stadium turned into Covid-19 centre | फिरोजशाह कोटला स्टेडियम बना 'कोविड-19 सेंटर', हजारों प्रवासी मजदूरों की घर वापसी से पहले ठहरने और टेस्टिंग की व्यवस्था
दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम को कोविड केंद्र के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है (Pic credit: Wikipedia)

Highlightsदिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में प्रवासी मजदूरों को रखने और उनकी टेस्टिंग का काम किया जा रहा हैप्रवासी मजदूरों को नेट्स का क्षेत्र इस्तेमाल करने को दिया गया है, ड्रेसिंग रूम और मैदान को इसकी सीमा से बाहर रखा गया है

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए अस्थाई क्वारंटीन सेंटर के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। 

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस ऐतिहासिक मैदान के स्टेडियम परिसर का उपयोग पिछले तीन दिनों से उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के प्रवासी मजदूरों के रुकने और उन्हें घर बसों और रेलवे स्टेशनों तक घर वापसी के लिए पहुंचाने से पहले उनकी टेस्टिंग के लिए किया जा रहा है।   

इस रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के लिए 1959 से 1973 तक प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलने वाले रिटायर्ड क्रिकेटर कर्नल विजय भूषण ने कहा, इस स्टेडियम का उपयोग यहां तक कि बंटवारे के दौरान भी किसी प्रवासी के रहने के लिए नहीं किया गया था और ये पहली बार जब उन्होंने ऐसा कुछ सुना है।

फिरोजशाह कोटला में 2000-2500 मजदूरों के ठहरने की व्यवस्था

2000-2500 मजदूरों के ठहरने के लिए तैयार किए गए इस मैदान को मंगलवार को मजदूरों के अंतिम बैच के जाने के बाद पूरे मैदान को सैनिटाइज किया गया।

डीडीसीए के संयुक्त सचिव राजन मनचंदा ने कहा, "हमें बताया गया है कि आने वाले दिनों में यहां और अधिक श्रमिकों को ठहराया जा सकता है।" “हमें दिल्ली सरकार और दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा एक दिन पहले 15 मिनट का नोटिस दिया गया था। वे बेड और सबकुछ ले आए। उन्हें दिन में दो बार लाया जा रहा था। पहले दिन, यहां 10 बसें आईं, सुबह 500 लोगों को लेकर आईं। फिर से शाम को 10 और बसें आईं, पहले वाले के साथ लौट रही थीं। हमारा पूरा स्टाफ ड्यूटी पर लगाया गया था-इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर आदि।'

दिल्ली और मनचंदा ने कहा कि जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने पहले ही फिरोजशाह कोटला के क्वारंटीन केंद्र के रूप में उपलब्ध होने की बात कही थी और मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख रुपये और प्रधानमंत्री राहत कोष में 11 लाख रुपये का दान दिया था।

उन्होंने कहा, एसडीएम ने इसके बारे में 10 अप्रैल को संज्ञान लिया था और इसे आकस्मिकता के लिए प्रयोग किए जाने वालों स्थानों की लिस्ट में रखा था।

हालांकि, एसोसिएशन ने ड्रेसिंग रूम और मैदान को इसकी सीमा से बाहर रखा, जिससे प्रवासियों को नेट्स के आसपास का क्षेत्र मिला।

Web Title: Delhi: Feroz Shah Kotla stadium turned into Covid-19 centre
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे