Australia fast bowler Mohammad Siraj farewell his fathers tribute flowers arrives directly grave soon comes to india | ऑस्ट्रेलिया से वापस आते ही सीधे अपने वालिद की कब्र पर फूल चढ़ाने पहुंचे तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज, नम आखों से दी विदाई...
सीधे कब्रिस्तान गए और नम आंखों से अपने मरहूम पिता को श्रद्धांजलि दी। (file photo)

Highlightsसिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कुल 13 विकेट झटके थे।मेलबर्न में दूसरे टेस्ट में इस प्रारूप में पदार्पण किया।सीरीज में सिर्फ तीन मैचों में ही खेलने का मौका मिला था।

हैदराबादःभारतीय टीम ने ऑस्ट्रलिया को 2-1 से हराकर सीरीज जीत ली। तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज जीत के नायक बनकर उभरे।

आज भारतीय टीम ऑस्ट्रलिया से भारत वापस आ गई है। सभी खिलाड़ी अपने-अपने शहर पहुंचे। इस बीच भावुक पल भी देखने को मिला। गाबा में जीत दिलाने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज सीधे एयरपोर्ट से घर नहीं गए। वह सीधे कब्रिस्तान गए और नम आंखों से अपने मरहूम पिता को श्रद्धांजलि दी।

सिराज उस समय आस्ट्रेलिया में थे जब उनके अब्बा ने आखिरी सांस ली। दो महीने से उन्हें अंतिम विदाई देने का इंतजार कर रहे सिराज आज उनकी कब्र पर पहुंचकर भावुक हो गए। उन्होंने वहां फूल चढ़ाये और नमाज पढ़ी। आटो रिक्शा चलाने वाले सिराज के पिता का 53 वर्ष की उम्र में 20 नवंबर को फेफड़े की बीमारी से निधन हो गया था। इससे एक सप्ताह पहले ही सिराज भारतीय टीम के साथ आस्ट्रेलिया पहुंचे थे। उन्हें घर लौटने का विकल्प दिया गया लेकिन वह टीम के साथ रुके।

उन्होंने घर लौटने की बजाय आस्ट्रेलिया में टीम के साथ रहकर अपने पिता का सपना पूरा किया। सिराज के भाई मोहम्मद इस्माइल ने कहा था ,‘‘मेरे मरहूम वालिद का ख्वाब था कि सिराज भारत के लिये टेस्ट क्रिकेट खेले । वह उसे हमेशा नीली और सफेद जर्सी में देखना चाहते थे। उनका सपना पूरा हुआ।’’

टेस्ट सीरीज के लिए आस्ट्रेलिया में मौजूद सिराज के पिता का निधन

चार टेस्ट मैचों की आगामी सीरीज के लिए आस्ट्रेलिया में मौजूद तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के पिता मोहम्मद गौस का निधन हो गया। गौस 53 बरस के थे और फेफड़ों की बीमारी से जूझ रहे थे। एक क्रिकेटर के रूप में सिराज की सफलता में उनके पिता की अहम भूमिका रही और सीमित संसाधनों के बावजूद उन्होंने अपने बेटे की महत्वाकांक्षाओं का समर्थन किया।

सिराज की इंडियन प्रीमियर लीग टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने ट्वीट किया, ‘‘मोहम्मद सिराज और उनके परिवार के प्रति हम तहेदिल से प्रार्थना करते हैं और शोक जताते हैं जिन्होंने अपने पिता को खो दिया। पूरी आरसीबी परिवार इस मुश्किल समय में आपके साथ है। मियां, मजबूत बने रहिए।’’

चोटिल ग्रीन की मदद को दौड़े सिराज की आस्ट्रेलियाई मीडिया ने प्रशंसा की

 भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज यहां चल रहे अभ्यास मैच के शुरुआती दिन प्रतिद्वंद्वी टीम के कैमरन ग्रीन के सिर में गेंद लगने के तुरंत बाद भागकर उन्हें देखने चले गये थे ,जिसकी आस्ट्रेलियाई मीडिया में काफी प्रशंसा की जा रही है। ग्रीन गेंदबाजी कर रहे थे और जसप्रीत बुमराह ने उनकी गेंद पर स्ट्रेट ड्राइव शॉट लगाया जिसे कैच लपकने के प्रयास में गेंद उनके हाथों से निकलकर उनके सिर के बायें हिस्से में लग गयी। सिराज ने तुंरत अपना बल्ला छोड़ा और ग्रीन को देखने भाग गये।

बुमराह ने भी अपने साथी की तरह ऐसा ही किया। ग्रीन को ‘कनकशन’ के कारण भारत और आस्ट्रेलियाई ए टीम के बीच गुलाबी गेंद के तीन दिवसीय अभ्यास मैच के बचे हुए हिस्से से बाहर कर दिया गया। 9न्यूज आस्ट्रेलिया ने ट्वीट किया, ‘‘भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद सिराज की मैच के दौरान युवा हरफनमौला कैमरन ग्रीन की मदद करके खेल भावना दिखाने के लिये प्रशंसा की जा रही है जिनके सिर पर गेंद लग गयी थी। ’’

एबीसी डॉट नेट डॉट एयू ने कहा, ‘नॉन-स्ट्राइकर छोर पर खड़े मोहम्मद सिराज और अंपायर गेरार्ड अबूद स्टार हरफनमौला को देखने पहुंचे और ग्रीन ने भी बुमराह को पैर पर थपथपाकर आश्वस्त किया कि वह ठीक हैं।’ क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने लिखा, ‘‘नॉन-स्ट्राइकर छोर पर खड़े मोहम्मद सिराज ने अपना बल्ला छोड़ा और तुरंत ही चोटिल गेंदबाज को देखने भागे।’

भारत के लिए खेलना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि: सिराज

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शनिवार को यहां दूसरे टेस्ट में पदार्पण करने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने कहा कि भारतीय ‘टेस्ट कैप (टेस्ट मैच की टोपी)’ हासिल करना उनकी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि है जिसे उन्होंने डॉट गेंदों की मदद से बल्लेबाजों को दबाव में डालकर यादगार बनाया। भारत के लिए टेस्ट खेलने वाले 298वें खिलाड़ी बने सिराज ने बीसीसीआई टेलीविजन पर कहा, ‘‘ टेस्ट क्रिकेट का कैप मिलना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि है। मुझे अज्जू भाई (अजिंक्य रहाणे) और जस्सी भाई (जसप्रीत बुमराह) के साथ बात कर के अच्छा लगा। वे मेरा हौसला बढ़ा रहे थे। ’’

गाबा में दर्शकों ने सिराज को ‘कीड़ा’ कहा : रिपोर्ट

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट के शुरूआती दिन दर्शकों के एक समूह ने फिर से निशाना बनाया और उन्हें अपशब्द कहे तथा यहां एक अखबार में दावा किया गया कि उन्हें कुछ दर्शकों ने ‘कीड़ा’ कहा। इस घटना से कुछ दिन पहले सिराज को तीसरे ड्रा टेस्ट के तीसरे और चौथे दिन सिडनी क्रिकेट मैदान पर दर्शकों ने नस्लीय शब्द कहे थे।

अखबार में दर्शक (नाम - केट) के हवाले से लिखा गया, ‘मेरे पीछे बैठा लड़का - वाशिंगटन और सिराज - दोनों को कीड़े बुला रहा था।’ उन्होंने कहा, ‘‘इसकी शुरुआत सिराज को निशाना बनाते हुए की गयी और एससीजी में जो हुआ, उसी की तर्ज पर था (जिसमें दर्शकों ने के सेरा, सेरा की धुन पर के शिराज, शिराज बोल का इस्तेमाल किया)।’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन इस बार यह सिराज था। मुझे संदेह है कि यह महज संयोग नहीं है कि सिराज को एससीजी में हुई घटना के बाद निशाना बनाया जा रहा है।’ 

सिराज के परिवार और दोस्तों ने में खुशी की लहर

अपने बेटे को भारतीय क्रिकेट टीम के लिये खेलते देखने की हसरत लिये मोहम्मद सिराज के वालिद चल बसे और आज अगर वह जीवित होते तो उन्हें फख्र होता कि उनके बेटे ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीराज में भारत के लिये सबसे ज्यादा विकेट लिये। 

सिराज के भाई मोहम्मद इस्माइल ने कहा ,‘मेरे मरहूम वालिद का ख्वाब था कि सिराज भारत के लिये टेस्ट क्रिकेट खेले । वह उसे नीली और सफेद जर्सी में देखना चाहते थे और उनका यह सपना पूरा हो गया।’ उन्होंने कहा ,‘भारतीय टीम की यह बड़ी उपलब्धि है। सिराज ने अब्बा का सपना पूरा कर दिया। हमें खुशी है कि वह जीत में योगदान दे सका।’

(इनपुट एजेंसी)

Web Title: Australia fast bowler Mohammad Siraj farewell his fathers tribute flowers arrives directly grave soon comes to india

क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे