Uttar Pradesh Budget 2021 yogi adityanath government Rs 550270.78 crore presented free water to farmers | उत्तर प्रदेश बजट 2021ः 5,50,270.78 करोड़ रुपये का बजट पेश, किसानों को मुफ्त पानी, अयोध्या के लिए 140 करोड़
उप्र सरकार ने 2021-22 के बजट में कोरोना टीकाकरण के लिये 50 करोड़ रुपये की धनराशि का प्रस्ताव किया। (photo-ani)

Highlightsउत्तर प्रदेश ने इस सिलसिले में केंद्र के साथ समझौता करने की तैयारी कर ली है।विधायक भी अपने-अपने स्थान पर रखे टेबलेट में बजट भाषण को पढ़ सकेंगे।केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी इस साल एक फरवरी को लोकसभा में आम बजट का भाषण टेबलेट के माध्यम से ही किया था।

UP Budget 2021: उप्र की योगी आदित्यनाथ सरकार का आखिरी बजट और पहला पेपर लेस (कागज रहित) बजट वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने प्रस्तुत किया।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि किसानों को मुफ्त में पानी दिया जाएगा। अयोध्या के लिए 140 करोड़ रुपये दिया गया है। जेवर एयरपोर्ट के पास इलेक्ट्रानिक सिटी बनाई जाएगी। कक्षा 1 से 8 तक के बच्चे को मुफ्त यूनीफार्म दिया जाएगा। कलाकारों को यूपी गौरव सम्मान दिया जाएगा।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने उप्र सरकार का वित्त वर्ष 2021-22 का बजट विधानमंडल में पेश किया। उप्र सरकार ने 5,50,270.78 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। 2021-22 के बजट में कोरोना टीकाकरण के लिये 50 करोड़ रुपये की धनराशि का प्रस्ताव किया।

विधानसभा में अपना पहला पेपरलेस बजट पेश

उप्र सरकार ने 2021-22 के बजट में अयोध्या में निर्माणाधीन हवाई अडडे ‘मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट’ के लिये 101 करोड़ रुपये का प्रावधान किया। बजट में 27,598.40 करोड़ रुपये की नयी योजनाएं सम्मिलित हैं। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार उत्तर प्रदेश विधानसभा में अपना पहला पेपरलेस बजट पेश कर रही है।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने सोमवार को वित्त वर्ष 2021-22 के लिये विधानसभा में 55,0270 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने टैबलेट के जरिये 55,0270 करोड़ रुपये का बजट प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस बजट का आकार पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 37,410 करोड़ रुपये ज्यादा है। प्रदेश के पहले 'पेपरलेस' बजट के तहत सभी सदस्यों को भी टैबलेट पर बजट दस्तावेज उपलब्ध कराया गया। यह प्रदेश की योगी सरकार का पांचवां बजट है।

27,598.40 करोड़ रुपये की नयी योजनाओं का प्रस्ताव

इस बजट में 27,598.40 करोड़ रुपये की नयी योजनाओं का प्रस्ताव किया गया है। खन्ना ने शायर मंजूर हाशमी की गजल के शेर 'यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी लेकर चिराग जलता है' के साथ बजट भाषण को आगे बढ़ाते हुए कहा कि लंबे समय तक लॉकडाउन के कारण सरकार की राजस्व प्राप्तियां प्रभावित रहीं, लेकिन इसके बावजूद सरकार ने प्रभावी वित्तीय अनुशासन लागू किया। कर्मचारियों के वेतन और पेंशन का प्रवाह बना रहा तथा सार्थक कोशिशों से प्रदेश की अर्थव्यवस्था फिर से गति पकड़ रही है।

वित्त मंत्री ने कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 का बजट प्रदेश के समग्र एवं समावेशी विकास द्वारा विभिन्न वर्गों का स्वावलंबन कर उनके सशक्तिकरण को समर्पित है। खन्ना ने कहा, ‘‘पिछली सरकारों के कार्यकाल में प्रदेश के महत्वपूर्ण स्थानों पर सरकारी संपत्तियां बड़े पैमाने पर निष्प्रयोज्य हो गयी थीं। हमारी सरकार ने इसे संज्ञान लेते हुए ऐसी संपत्तियों को पुनर्जीवित करते हुए क्लस्टर स्थापित करने का निर्णय लिया है।’’

राज्य में अगले साल चुनाव होने से पहले, यह संभवतः बीजेपी सरकार का आखिरी बजट होगा। पहली बार कागज रहित बजट की प्रस्तुति की गवाह बनने जा रही उत्तर प्रदेश विधानसभा में जल्द ही एजेंडा, सवाल-जवाब और अन्य दस्तावेज भी 'पेपरलेस' होंगे। विधानसभा अध्यक्ष ने इसकी जानकारी दी।

मुफ्त पानी उपलब्ध कराया जा रहा

वित्त मंत्री ने कहा कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुनी करने के लिए किसानों को उन्नत तकनीक का प्रशिक्षण एवं मुफ्त पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही सामाजिक सुरक्षा एवं कल्याण कार्यक्रमों से उन्हें सशक्त किया गया है। सरकार ने किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाना सुनिश्चित कराया है।

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर रखा जाएगा

उन्होंने कहा कि सरकार ने गन्ना किसानों को 12,3000 करोड़ रुपये से ज्यादा के रिकॉर्ड गन्ना मूल्य का भुगतान कराया है। सरकार ने किसानों के लिये 15,000 सोलर पंप की स्थापना का लक्ष्य तय किया है। खन्ना ने कहा कि अयोध्या में निर्माणाधीन हवाई अड्डे का नाम मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर रखा जाएगा।

इसके लिये 101 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। वित्त मंत्री के इस कथन का सदन के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर स्वागत किया और सदन में 'जय श्री राम' के नारे भी लगाये गये। वित्त मंत्री ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए व्यापक कार्य किए गए हैं। सरकार ने निर्णय लिया है कि हर अपराधी सलाखों के पीछे होगा। सरकार लोगों के जीवन स्तर में सुधार के लिए लगातार काम कर रही है। हर घर जल, हर घर बिजली, हर गांव में सड़क और हर गांव में बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

(इनपुट एजेंसी)

Web Title: Uttar Pradesh Budget 2021 yogi adityanath government Rs 550270.78 crore presented free water to farmers

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे