Tobacco farmers' body appeals for withdrawal of cigarette, tobacco related bill | तम्बाकू किसानों के निकाय ने सिगरेट, तम्बाकू सबंधी विधेयक वाप लिए जाने की अपील की
तम्बाकू किसानों के निकाय ने सिगरेट, तम्बाकू सबंधी विधेयक वाप लिए जाने की अपील की

नयी दिल्ली, 13 जनवरी किसानों के संगठन एफएआईएफए ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादों से संबंधित कानून में संशोधन के लिए प्रस्तावित विधेयक को वापस लेने को कहा। उनका तर्क है कि इन संशोधनों से भारतीय तम्बाकू किसानों की आजीविका समाप्त हो जाएगी।

एक बयान में अखिल भारतीय किसान संघों के महासंघ (एफएआईएफए) के महासचिव मुरली बाबू ने कहा कि इस संशोधन विधेयक में सिगरेट/तम्बाकू पर नियंत्रण लगाने के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन के समझौते एफसीटीसी) के सभी प्रावधानों को पूरी ताकत से लागू किया जा रहा है और कुछ मामलों में इसके प्राबधान एफसीटीसी की शर्तों से भी ज्यादा सख्त हैं।

बयान में कहा गया है कि प्रस्तावित सीओटीपीए (सिगरेट एवं अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम) संशोधन विधेयक 2020 भारत में सिगरेट के अवैध कारोबार को बढ़ावा देगा और कानूनी सिगरेट व्यापार, पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा, जो आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और गुजरात में इस वाणिज्यिक फसलों के किसानों और खेत श्रमिकों का प्रतिनिधित्व करने का दावा करता है।

एफएआईएफए ने कहा है कि वह प्रधानमंत्री मोदी से ‘‘सीओटीपीए संशोधन विधेयक को वापस लेने की अपील करता है क्योंकि यह भारतीय एफसीवी तंबाकू किसानों की आजीविका समाप्त करने वाला है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Tobacco farmers' body appeals for withdrawal of cigarette, tobacco related bill

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे