आयुध निर्माण बोर्ड के पुनर्गठन से रक्षा उद्योग से जुड़े निजी क्षेत्र को फायदा होगा : पीएचडीसीसीआई

By भाषा | Published: June 23, 2021 08:47 PM2021-06-23T20:47:10+5:302021-06-23T20:47:10+5:30

Restructuring of Ordnance Manufacturing Board will benefit the private sector involved in the defense industry: PHDCCI | आयुध निर्माण बोर्ड के पुनर्गठन से रक्षा उद्योग से जुड़े निजी क्षेत्र को फायदा होगा : पीएचडीसीसीआई

आयुध निर्माण बोर्ड के पुनर्गठन से रक्षा उद्योग से जुड़े निजी क्षेत्र को फायदा होगा : पीएचडीसीसीआई

Next

नयी दिल्ली 23 जून उद्योग मंडल पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) ने बुधवार को कहा कि करीब 200 साल पुराने आयुध निर्माण बोर्ड के पुनर्गठन के सरकार के फैसले से रक्षा विनिर्माण और आपूर्ति से जुड़े निजी क्षेत्र की कंपनियों को फायदा होगा।

सरकार ने लगभग 200 साल पुराने आयुध निर्माण बोर्ड (ओएफबी) के पुनर्गठन के लंबित प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इसके तहत बोर्ड को सात अलग-अलग कंपनियों में बदला जाएगा ताकि काम में जवाबदेही बढ़ सके। बोर्ड इस समय हथियार और गोला-बारूद बनाने के 41 कारखाने चलाता है।

उद्योग मंडल ने कहा कि ओएफबी के सात अलग-अलग कंपनियों में बदलने से वे पेशेवर प्रबंधन के साथ प्रशासनिक और वित्तीय स्वायत्तता से संबंधित निर्णय ले सकेंगे, जिससे छोटे और मध्यम उद्यमों (एसएमई) को रक्षा खरीद के सभी मामलों में तेजी से निर्णय लेने को बढ़ावा मिलेगा।

पीएचडीसीसीआई ने कहा कि इससे निश्चित रूप से उद्योग और सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम(एमएसएमई) के लिए व्यवसाय करने में बहुत आसानी आएगी जिससे एमएसएमई अब रक्षा आपूर्ति के अपने कारोबार को बढ़ाने की उम्मीद कर सकते हैं।

मंडल ने कहा कहा कि ओएफबी के कॉरपोरेट कंपनियों के रूप में बदलने से नवाचार को बढ़ावा मिलेगा तथा नए उत्पादों को विकसित करने के लिए भारतीय कंपनियां, विदेशी कंपनियों के साथ रणनीतिक गठबंधन करने के लिए स्वतंत्र होंगी।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Restructuring of Ordnance Manufacturing Board will benefit the private sector involved in the defense industry: PHDCCI

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे