Reliance Jio burns gains jump 183 percent to Rs 2,520 crore Reliance Industries gains Rs 13,248 crore | Reliance Jio: जियो का जलवा, लाभ 183 प्रतिशत उछलकर 2,520 करोड़, रिलायंस इंडस्ट्रीज gains 13,248 crore
जियो प्लेटफॉर्म्स डिजिटल व्यवसायों के लिये अगले चरण की तेज वृद्धि दर्ज करने के लिये तैयार है।

Highlightsकंपनी को पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 891 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। आलोच्य तिमाही के दौरान प्रति ग्राहक कंपनी का औसत राजस्व 140.3 रुपये प्रति माह रहा।वायरलेस व डिजिटल नेटवर्क बनाकर भारत में हर किसी को डिजिटल कनेक्टिविटी का लाभ देने के दृष्टिकोण के साथ हुई।

नई दिल्लीः देश के सबसे अमीर कारोबारी मुकेश अंबानी की दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो का शुद्ध लाभ जून तिमाही में लगभग 183 प्रतिशत उछलकर 2,520 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

कंपनी को पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 891 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। आलोच्य तिमाही के दौरान कंपनी का परिचालन से प्राप्त राजस्व भी 33.7 प्रतिशत बढ़कर 16,557 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी के कुल ग्राहकों की संख्या 30 जून 2020 तक बढ़कर 39.83 करोड़ हो गयी।

आलोच्य तिमाही के दौरान प्रति ग्राहक कंपनी का औसत राजस्व 140.3 रुपये प्रति माह रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) मुकेश अंबानी ने कहा, ‘‘जियो की शुरुआत एक मजबूत और सुरक्षित वायरलेस व डिजिटल नेटवर्क बनाकर भारत में हर किसी को डिजिटल कनेक्टिविटी का लाभ देने के दृष्टिकोण के साथ हुई।

अब तेरह निवेशक, जिनमें सबसे बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों और वैश्विक निवेशक शामिल हैं, अब हमारे साथ यह दृष्टिकोण साझा करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय स्टार्टअप और विश्व स्तर पर प्रसिद्ध प्रौद्योगिकी कंपनियों के साथ साझेदारी के साथ जियो प्लेटफॉर्म्स डिजिटल व्यवसायों के लिये अगले चरण की तेज वृद्धि दर्ज करने के लिये तैयार है।

अंबानी ने कहा, "हमारी वृद्धि की रणनीति सभी 1.3 अरब भारतीयों की जरूरतों को पूरा करने के उद्देश्य पर केंद्रित है। हम भारत को डिजिटल सोसाइटी बनाने की प्रक्रिया में एक प्रमुख भूमिका निभाने पर केंद्रित हैं।"

रिलायंस इंडस्ट्रीज को जून तिमाही में 13,248 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 13,248 करोड़ रुपये रहा। कंपनी को हिस्सेदारी बिक्री से हुई असाधारण आय से उसका लाभ बढ़ा है। कंपनी ने बृहस्पतिवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में कंपनी को 10,141 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा कि वह हिस्सेदारी बिक्री से 4,966 करोड़ रुपये की विशिष्ट आय होना स्वीकार करती है।

एलटी फूड्स के पहले तिमाही का शुद्ध लाभ 88.57 प्रतिशत बढ़कर 82.65 करोड़ रुपये

बासमती चावल की प्रमुख कंपनी एलटी फूड्स ने बृहस्पतिवार को बताया कि वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 88.57 प्रतिशत बढ़कर 82.65 करोड़ रुपये हो गया है। कंपनी ने इस वृद्धि का मुख्य कारण उसकी बिक्री का बढ़ना बताया है।

कंपनी ने एक नियामकीय सूचना में बीएसई को बताया कि पिछले वर्ष की समान अवधि में उसे 45.42 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ बढ़ने का कारण उसकी सहायक कंपनियों और संयुक्त उद्यमों की आय में हुई भारी वृद्धि है। वित्तवर्ष 2020-21 की अप्रैल-जून तिमाही में एलटी फूड्स का एकीकृत शुद्ध लाभ बढ़कर 1,220.71 करोड़ रुपये हो गया, जो पिछले साल की समान तिमाही में 985.31 करोड़ रुपये था।

उक्त अवधि में कंपनी का खर्च पहले के 916.62 करोड़ रुपये की तुलना में बढ़कर 1,110.49 करोड़ रुपये हो गया। एकल आधार पर, चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ पहले के 21.4 करोड़ रुपये से बढ़कर चालू वित्त वर्ष की प्रथम तिमाही में 26.42 करोड़ रुपये हो गया।

उक्त अवधि में कंपनी की शुद्ध आय पहले के 604.49 करोड़ रुपये से बढ़कर 642.26 करोड़ रुपये हो गई। एलटी फूड्स की 12 सहायक और संयुक्त उद्यम कंपनियां हैं, जो ब्रांडेड और गैर-ब्रांडेड बासमती चावल की मिलिंग, उनके प्रसंस्करण और विपणन के काम में लगी हुई हैं। कंपनी के भारत और अंतरराष्ट्रीय बाजार में चावल के खाद्य उत्पादों की विनिर्माण इकाइयां हैं। इसके प्रमुख ब्रांड ‘दावत’ और ‘रॉयल’ हैं।

Web Title: Reliance Jio burns gains jump 183 percent to Rs 2,520 crore Reliance Industries gains Rs 13,248 crore
कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे