Private banks can get govt business embargo lifted finance minister Nirmala Sitharaman announced  | प्राइवेट बैंक पर लगा प्रतिबंध मोदी सरकार ने हटाया, अब कर सकेंगे सरकारी लेनदेन, उदय कोटक बोले-प्रगतिशील सुधार का स्वागत
फिलहाल निजी क्षेत्र के कुछ बड़े बैंकों को ही सरकार से जुड़े कामकाज करने की अनुमति है।  (file photo)

Highlightsबजट में आईडीबीआई के अलावा सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण की घोषणा कर चुकी है।सरकार ने पिछले सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का एकीकरण किया।सरकारी बैंकों की संख्या घटकर 12 पर आ गई, जो मार्च 2017 में 27 थी।

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि निजी बैंकों को सरकारी व्यवसायों के अनुदान पर प्रतिबंध हटा दिया है। वित्त मंत्री ने ट्विटर पर पोस्ट किया।

बैंकों के अनुदान पर एम्बरगो ने उठा लिया गया है। सभी बैंक अब भाग ले सकते हैं। उन्होंने आगे उल्लेख किया कि सभी बैंक अब भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास में समान भागीदार हो सकते हैं। सीतारमण ने एक ट्वीट में कहा, "निजी बैंक अब भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास में बराबर के भागीदार हो सकते हैं, सरकार की सामाजिक क्षेत्र की पहल को आगे बढ़ा सकते हैं और ग्राहकों की सुविधा बढ़ा सकते हैं।"

सरकारी व्यवसायों में भाग लेने की अनुमति

एक्सिस बैंक सहित केवल कुछ निजी बैंकों ने पहले सरकारी व्यवसायों में भाग लेने की अनुमति दी थी। कोटक महिंद्रा बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी उदय कोटक ने इस कदम पर टिप्पणी करते हुए कहा, "मैं इस प्रगतिशील सुधार का स्वागत करता हूं। यह बैंकिंग क्षेत्र को ग्राहकों की बेहतर सेवा करने में सक्षम बनाएगा। निजी और सार्वजनिक क्षेत्र दोनों को भारत के सतत विकास की दिशा में काम करना चाहिए।"

कदम से ग्राहक सुविधा बेहतर

वित्त मंत्रालय ने निजी क्षेत्र के सभी बैंकों को कर संग्रह, पेंशन भुगतान और लघु बचत योजनाओं जैसे सरकार से जुड़े कामकाज में शामिल होने की अनुमति दे दी। एक्सिस बैंक के कार्यकारी निदेशक ने कहा कि हम घोषणा से खुश हैं। निजी बैंकों को सरकार से संबंधित बैंकिंग लेनदेन करने की अनुमति है जैसे कि करों और अन्य राजस्व भुगतान, सुविधाएं, पेंशन भुगतान, छोटी बचत योजना, आदि। इस कदम से ग्राहक सुविधा, स्पर प्रतिस्पर्धा और मानकों में उच्च दक्षता बढ़ाने की उम्मीद है। 

भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास...

फिलहाल निजी क्षेत्र के कुछ बड़े बैंकों को ही सरकार से जुड़े कामकाज करने की अनुमति है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार इस कदम से ग्राहकों के लिए सुविधा बढ़ेगी, प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा मिलेगा और ग्राहकों को मिलने वाली सेवाओं के मानकों में दक्षता बढ़ेगी। निजी बैंक अब भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास, सरकार के सामाजिक क्षेत्र में उठाये गए कदमों और ग्राहकों की सुविधा बेहतर बनाने में समान रूप से भागीदार हो सकते हैं।

बयान के अनुसार अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी को अपनाने और उसके उपयोग तथा नवप्रवर्तन के मामले में अगुवा रहने वाले निजी क्षेत्र के बैंक अब भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास और सरकार के सामाजिक क्षेत्र में उठाये गए कदमों को लागू करने में समान रूप से भागीदार होंगे।

इसमें कहा गया है, ''पाबंदी हटाए जाने के साथ भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के अलावा निजी क्षेत्र के बैंकों को सरकारी कामकाज सौंपने को लेकर कोई प्रतिबंध नहीं है।सरकार ने इस निर्णय के बारे में आरबीआई को सूचना दे दी है।''

Web Title: Private banks can get govt business embargo lifted finance minister Nirmala Sitharaman announced 

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे