लाइव न्यूज़ :

Market Capitalization: टूटे रिकॉर्ड, बाजार पूंजीकरण 43724261.40 करोड़ रुपये, सेंसेक्स 77,301.14 अंक पर बंद

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: June 18, 2024 6:54 PM

Market Capitalization: बीएसई का मानक सूचकांक सेंसेक्स 308.37 अंक यानी 0.40 प्रतिशत की बढ़त के साथ 77,301.14 अंक के सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर बंद हुआ।

Open in App
ठळक मुद्देएक समय 374 अंक की बढ़त के साथ 77,366.77 अंक के उच्चतम शिखर को भी छुआ। बाजार में मंगलवार को लगातार चौथे दिन तेजी का सिलसिला कायम रहा।बाजार पूंजीकरण का नया रिकॉर्ड स्तर है।

Market Capitalization: घरेलू शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला जारी रहने के बीच मंगलवार को बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) बढ़कर 437.24 लाख करोड़ रुपये के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। बीएसई का मानक सूचकांक सेंसेक्स 308.37 अंक यानी 0.40 प्रतिशत की बढ़त के साथ 77,301.14 अंक के सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने एक समय 374 अंक की बढ़त के साथ 77,366.77 अंक के उच्चतम शिखर को भी छुआ। बाजार में मंगलवार को लगातार चौथे दिन तेजी का सिलसिला कायम रहा।

इन चार कारोबारी सत्रों में निवेशकों की पूंजी में कुल 10.29 लाख करोड़ रुपये का उछाल आया है। इसके साथ ही बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 4,37,24,261.40 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। यह बाजार पूंजीकरण का नया रिकॉर्ड स्तर है।

प्रत्यक्ष कर संग्रह 21 प्रतिशत बढ़कर 4.62 लाख करोड़ रुपये हुआ, अग्रिम कर राजस्व में हुई वृद्धि

आयकर विभाग ने मंगलवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष में अबतक शुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रह 21 प्रतिशत बढ़कर 4.62 लाख करोड़ रुपये हो गया। इसमें अग्रिम कर संग्रह में हुई वृद्धि का विशेष योगदान रहा। अग्रिम कर की पहली किस्त 15 जून को देय थी। यह संग्रह 27.34 प्रतिशत बढ़कर 1.48 लाख करोड़ रुपये रहा है।

इसमें 1.14 लाख करोड़ रुपये का कॉरपोरेट कर (सीआईटी) और 34,470 करोड़ रुपये का व्यक्तिगत आयकर (पीआईटी) शामिल है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक बयान में कहा कि 4,62,664 करोड़ रुपये (17 जून, 2024 तक) के शुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रह में 1,80,949 करोड़ रुपये का सीआईटी और 2,81,013 करोड़ रुपये का पीआईटी (प्रतिभूति लेनदेन कर सहित) शामिल हैं।

वित्त वर्ष 2024-25 में 17 जून तक 53,322 करोड़ रुपये का रिफंड भी जारी किया गया है। यह पिछले साल इसी अवधि के दौरान जारी किए गए रिफंड से 34 प्रतिशत अधिक है। इस साल एक अप्रैल से 17 जून के दौरान प्रत्यक्ष करों का सकल संग्रह (रिफंड के लिए समायोजन से पहले) सालाना आधार पर 22.19 प्रतिशत बढ़कर 5.16 लाख करोड़ रुपये रहा।

टॅग्स :सेंसेक्सशेयर बाजारनिफ्टीshare market
Open in App

संबंधित खबरें

कारोबारजोमैटो के प्लेटफॉर्म शुल्क में 20 फीसद की बढ़ोतरी, अब शेयर मार्केट से फूड डिलीवरी फर्म के लिए आई खुशखबरी

कारोबारShare Bazaar: NSE ने इन 1,010 कंपनियों को व्यापार करने पर लगाई रोक, इस बड़ी वजह से किया गेम से आउट

कारोबारGold Rate Today, 11 July 2024: फिर बढ़े सोने के दाम, खरीदने से पहले जानें गोल्ड रेट कितना है

कारोबारआज क्यों दिख रही रेमंड के शेयरों में 40 प्रतिशत की गिरावट? क्या है कारण, जानें यहां

कारोबार150 years of Bombay Stock Exchange: 1875 में स्थापना, जानिए दलाल स्ट्रीट कहानी, दुनिया का चौथा सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज, पढ़िए

कारोबार अधिक खबरें

कारोबारकर्नाटक: IT कंपनियों की सरकार से बड़ी मांग, काम के 14 घंटे का प्रस्ताव रखा, कर्मचारी नाराज

कारोबारटमाटर के दाम में राजधानी दिल्ली में लगी आग, 100 रु प्रति किलो पहुंचे दाम

कारोबारHDFC-Yes Bank- Rbl Bank Q1 Results: एचडीएफसी को 16474 करोड़, यस का शुद्ध लाभ 502 करोड़ और आरबीएल बैंक की कमाई 372 करोड़ रुपये, देखें अप्रैल-जून तिमाही आंकड़े

कारोबारBudget 2024 Live Updates: घर खरीदने वालों को आम बजट में अधिक कर लाभ छूट मिले, क्रेडाई ने कहा-किफायती घर बनाने वाले बिल्डर को प्रोत्साहित कीजिए

कारोबारGold Rate Today, 20 July 2024: सोने की कीमत में आई गिरावट, जानें आपके शहर में क्या है सोने का रेट