Companies, parties from south states will ease from the Chennai bench of the company-university appellate tribunal | कंपनी-विवि अपीलीय न्याधिकरण की चेन्नई पीठ से दक्षिण राज्यों की कंपनियों, पक्षों को होगी आसानी
कंपनी-विवि अपीलीय न्याधिकरण की चेन्नई पीठ से दक्षिण राज्यों की कंपनियों, पक्षों को होगी आसानी

नयी दिल्ली , 25 जनवरी केंद्रीय वित्त एवं कार्पोरे मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) की एक पीठ चेन्नई में स्थापित होने से दक्षिण के राज्यों की कंपनियों और संबंधित वादों में पक्षकारों को सहूलियत होगी।

उन्होंने कहा कि एनसीएलएटी की एक और पीठ स्थापित हो जाने से लंबित मामलों की संख्या भी कम करने में मदद मिलेगी।

सीतारमण ने इस एनसीएलएटी की चेन्नई पीठ का उद्धाटन किया। यह पीठ कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल , आंध्रप्रदेश, लक्षद्वीप और पांडिचेरी क्षेत्र में आने वाली कंपनियों के संबंध में कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) के निर्णयों के विरुद्ध अपील की सुनवाई करेगी। यह पांचवी अपीलीय पीठ है।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अुनसार एनसीएलएटी दिल्ली पीठ के दो सदस्यों बलविंदर सिंह (सदस्य तकनीकी) तथा न्यायमूर्ति वेणुगोपाल एम ने चेन्नयी में नव-स्थापित एनसीएलएटी का कार्यभार संभाल लिया है।

बयान में कहा गया है कि एनसीएलटी की पांच नयी पीठों की घोषणा की गयी है। ये जयपुर, कटक, कोच्ची, इंदौर और अमरावती में स्थापित की जांएगी।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Companies, parties from south states will ease from the Chennai bench of the company-university appellate tribunal

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे