Budget 2020: Stainless steel sector seeks zero duty on ferro-nickel, scrap | Budget 2020: निर्मला सीतारमण के सामने बजट में स्टेनलैस स्टील इंडस्ट्री ने रखी ये बड़ी मांग
Demo Pic

Highlightsबजट से पहले स्टेनलैस स्टील उद्योग ने सरकार से लौह मिश्रित निकल जैसे कच्चे माल और इस्पात कबाड़ को आयात शुल्क मुक्त करने की मांग रखी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को वित्तवर्ष 2020-21 का आम बजट पेश करने वाली हैं।

बजट से पहले स्टेनलैस स्टील उद्योग ने सरकार से लौह मिश्रित निकल जैसे कच्चे माल और इस्पात कबाड़ को आयात शुल्क मुक्त करने की मांग रखी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को वित्तवर्ष 2020-21 का आम बजट पेश करने वाली हैं।

घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए इंडियन स्टेनलैस स्टील डेवलपमेंट एसोसिएशन (आईएसएसडीए) ने सरकार को बजट में कुछ सुधारात्मक कदम उठाने के सुझाव दिए हैं। वित्त मंत्रालय को भेजी अपनी सिफारिशों में एसोसिएशन ने सरकार से लौह-निकल जैसे कच्चे माल और इस्पात कबाड़ को शुल्क मुक्त करने की मांग की है।

बयान के अनुसार, लौह-निकल और स्टेनलैस स्टील का कबाड़ दो प्रमुख कच्चे माल हैं और इनकी देश में उपलब्धता काफी कम है। इसलिए इनका अनिवार्य तौर पर आयात किया जाना चाहिए। मौजूदा समय में इन दोनों उत्पादों पर ढाई प्रतिशत का सीमाशुल्क लगता है।

लौह-निकल और इस्पात कबाड़ पर आयात शुल्क हटाने की मांग लंबे समय से की जा रही है। इस्पात मंत्रालय ने भी इस समय इसके आयात को शून्य शुल्क दायरे में रखने की वकालत की है। 

Web Title: Budget 2020: Stainless steel sector seeks zero duty on ferro-nickel, scrap
कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे