'मैं जो कहना चाहता था वही कहा', दिलीप कुमार के खिलाफ लेख पर बोले नसीरुद्दीन शाह- मेरा सपना था कि मैं दिलीप कुमार के साथ काम करूं ना कि उनके अपोजिट

By अनिल शर्मा | Published: July 29, 2021 01:22 PM2021-07-29T13:22:34+5:302021-07-29T13:45:59+5:30

नसीरुद्दीन शाह ने कहा है कि उन्होंने जो कुछ भी कहा था काफी सोच-विचार कर कहा था। और वे अभी भी अपनी बातों पर अडिग हैं। बकौल नसीरुद्दीन शाह- मैंने दिलीप साहब के बारे में जो कहा, उसपर नाराज होने का फैसला लेने वालों को पूरा आर्टिकल पढ़ना चाहिए।

Naseeruddin Shah stood by what he wrote about the late Dilip Kumar said My dream was to work with Dilip saab not his opposite | 'मैं जो कहना चाहता था वही कहा', दिलीप कुमार के खिलाफ लेख पर बोले नसीरुद्दीन शाह- मेरा सपना था कि मैं दिलीप कुमार के साथ काम करूं ना कि उनके अपोजिट

'मैं जो कहना चाहता था वही कहा', दिलीप कुमार के खिलाफ लेख पर बोले नसीरुद्दीन शाह- मेरा सपना था कि मैं दिलीप कुमार के साथ काम करूं ना कि उनके अपोजिट

Next
Highlightsदिलीप कुमार पर लिखे आलोचनात्म लेख पर नसीरुद्दीन ने की प्रतिक्रियाशाह ने कहा कि वे जो कहना चाहते थे वही कहानसीरुद्दीन शान ने कहा कि उनका दिलीप कुमार के साथ काम करने का सपना था

मुंबईः नसीरुद्दीन शाह ने कुछ महीने पहले दिवंगत अभिनेता दिलीप कुमार पर एक आलोचनात्मक लेख लिखा था, जिसकी चर्चा सिनेमा जगत से लेकर मीडिय जगत में खूब हुई। उस लेख को लेकर नसीरुद्दीन शाह को सोशल मीडिया पर अलोचना का शिकार भी होना पड़ा था। नसीरुद्दीन शाह ने तब दिलीप कुमार को याद करते हुए लिखा था कि दिवंगत अभिनेता का भारतीय सिनेमा में कोई योगदान नहीं, उन्होंने आगे की पीढ़ी के लिए कुछ खास नहीं किया।

नाराज होने वालों को पूरा लेख पढ़ना चाहिए था- नसीरुद्दीन

इन्हीं बातों को लेकर नसीरुद्दीन शाह ने स्पॉटबॉय को दिए इंटरव्यू में कहा है कि उन्होंने जो कुछ भी कहा था काफी सोच-विचार कर कहा था। और वे अभी भी अपनी बातों पर अडिग हैं। बकौल नसीरुद्दीन शाह- मैंने दिलीप साहब के बारे में जो कहा, उसपर नाराज होने का फैसला लेने वालों को पूरा आर्टिकल पढ़ना चाहिए। उन्हें समझ आता कि  उनके लिए मेरी तारीफ़, भले ही शर्तिया थी, चमकभरी थीं। 

शाह ने आगे कहा, उनकी एक्टिंग की तारीफ़ करते हुए मेरे पास विशेषण कम पड़ने लगे थे। मेरी शिकायत का इससे कोई लेना नहीं है। हालांकि, जिन लोगों को इसमें मतलब खोजने थे, उनका रिएक्शन मुझे परेशान नहीं करता... मैंने वही कहा, जो मैं कहना चाहता था और अगर मेरा वो मतलब नहीं होता तो मैं ये कहता भी नहीं। 

दिलीप कुमार के साथ काम करने का सपना था- शाह

नसीरुद्दीन शाह ने उन बातों का भी खंडन किया कि दिलीप कुमार और उनके बीच मनमुटाव था। अभिनेता ने कहा कि ये सब मीडिया की देन है। और कुछ निहित स्वार्थों के लिए ऐसा किए। शाह ने कहा कि ये सब बातें एक फिल्म (कर्मा) के निर्माण के दौरान की थी जिसे मैं भूल चुका था। मीडिया ने उसे अभिनय द्वंद्व के रूप में प्रसारित किया। नसीरुद्दीन शाह ने इस बात को भी कबूला कि उनका सपना था कि वे दिलीप कुमार के साथ काम करें, ना कि उके अपोजिट।

लेख में क्या लिखा था नसीरुद्दीन शाह ने?

इंडियन एक्सप्रेस अखबार के लिए लिखे एक लेख में नसीरुद्दीन शाह ने कहा था कि दिलीप कुमार इंडिया के लिए एक बड़े स्टार थे लेकिन इंडियन सिनेमा और नए कलाकारों को आगे बढ़ाने में उनका कोई खास योगदान नहीं है। इसके साथ ही नसीरुद्दीन शाह ने दिलीप कुमार की एक्टिंग की आलोचना करते हुए कहा कि उनकी एक्टिंग में नाटकीयता थी और वे मानदंडों का पालन भी नहीं करते थे।भारतीय सिनेमा में दिलीप कुमार के एक प्रतिमान स्थापित करने की बात कबूलते हुए नसीरुद्दीन शाह आगे लिखते हैं कि उन्होंने अपनी अदाकारी के जरिए भारतीय फिल्मों में एक प्रतिमान स्थापित किया था। जिसकी नकल कई एक्टरों ने करने की कोशिश की थी लेकिन उनकी नकल पकड़ी जाती थी।

Web Title: Naseeruddin Shah stood by what he wrote about the late Dilip Kumar said My dream was to work with Dilip saab not his opposite

बॉलीवुड चुस्की से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे